भालू की दुर्लभ पित्त की थैली सहित वन्य जीव तस्कर दबोचा

0
338

चमोली। वन्य जीव अंगों की तस्करी में लिप्त एक व्यक्ति को पुलिस व वन विभाग की संयुक्त टीम द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने भालू की दुर्लभ पित्त की थैली भी बरामद की गयी है।
जानकारी के अनुसार बीते रोज एसओजी, थाना चमोली व वन विभाग चमोली रेंज की संयुक्त टीम को सूचना मिली कि क्षेत्र में एक वन्य जीव तस्कर आने वाला है। जिसके पास भालू की पित्त की थ्ौली हो सकती है। सूचना पर कार्यवाही करते हुए संयुक्त टीम द्वारा क्षेत्र में चैकिंग अभियान चला दिया गया। इस दौरान संयुक्त टीम को नन्दप्रयाग क्षेत्र के शौचालय के समीप एक संदिग्ध व्यक्ति आता हुआ दिखायी दिया। टीम द्वारा जब उसे रोकना चाहा तो वह सकपका कर भागने लगा। इस पर उसे घेर कर दबोचा गया। तलाशी के दौरान उसके पास से भालू जो (वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत शेड्यूल वन में संरक्षित जीव) है, की दुर्लभ 43 ग्राम पित्त की थ्ौली (गॉलब्लैडर) बरामद की गयी। पूछताछ में उसने अपना नाम गमन सिंह पुत्र शिव बहादुर निवासी ग्राम रकुम आंचल नेपाल वर्तमान पता पुरसाडी चमोली बताया। बताया कि वह फंास लगाकर प्रतिबन्धित वन्य जीव भालू का शिकार करता है तथा उसके अंगो को ऊचे दामों में बेच देता है। पुलिस द्वारा उसके खिलाफ कोतवाली चमोली में वन्य जीव (संरक्षण) अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे न्यायालय में पेश कर दिया गया है। बरामद भालू की पित्त की थ्ौली की कीमत 3 लाख रूपये बतायी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here