न्यायिक आयोग करेगी मणिपुर हिंसा की जांच, 6 केस की जांच सीबीआई करेगी

0
259


इंफाल। मणिपुर की यात्रा पर पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने बताया कि मणिपुर में हुई हिंसा की जांच के लिए न्यायिक आयोग का गठन किया गया है।
हाईकोर्ट के रिटायर जज के नेतृत्व में आयोग जांच करेगी। हिंसा के 6 केस की जांच सीबीआई की स्पेशल टीम करेगी। अमित शाह ने अपील की कि जिनके पास अवैध हथियार हैं वे जमा कर दें। उन्होंने कहा कि कल से पुलिस कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाएगी। अगर इस दौरान हथियार मिले तो सख्त कार्रवाई होगी। अमित शाह ने कहा, 29 अप्रैल को मणिपुर हाईकोर्ट ने जल्दबाजी में फैसला दिया, जिसके चलते यहां जातीय हिंसा की शुरुआत हुई। पिछले छह साल से, जबसे मणिपुर में भाजपा की सरकार आई, यह हिंसा से मुक्त रहा। हिंसा में जिन लोगों की मौत हुई उनके परिवारों के प्रति प्रधानमंत्री की ओर से, मेरी ओर से और भारत सरकार की ओर से संवेदना व्यक्त करता हूं। मणिपुर में अभी बहुत सी एजेंसियां काम कर रहीं हैं, उनके बीच बेहतर समन्वय के लिए सलाहकार कुलदीप सिंह (रिटायर डीजी सीआरपीएफ) की अध्यक्षता में इंटर एजेंसी यूनिफाइड कमांड की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा, “जितने भी केस दर्ज किए गए हैं उनमें से 5 केस चुने गए हैं और एक केस साजिश रचने के संबंध में दर्ज किया गया है। इन छह केस की जांच सीबीआई का विशेष दल करेगा। हिंसा में जितने भी लोगों की जान गई है उनके परिजनों को 5 लाख रुपए मणिपुर सरकार की ओर से और पांच लाख रुपए भारत सरकार की ओर से दी जाएगी। पैसे सीधे बैंक अकाउंट में भेजे जाएंगे। जो लोग घायल हुए हैं और जिनकी संपत्ति का नुकसान हुआ है उ नलोगों के लिए भी राहत पैकेज तय किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here