टोरंटो पुलिस ने किया कार चोर गिरोह का भंडाफोड़, करोड़ों डॉलर के 556 वाहन बरामद

0
309


टोरंटो। कनाडा में टोरंटो पुलिस ने पंजाबी कार चोर गिरोह का भंडाफोड़ कर करोड़ों डॉलर के 556 वाहन बरामद किए हैं। पुलिस ने टोरंटो शहर के पश्चिम में ऑटो चोरी की चल रही जांच के सिलसिले में 500 से अधिक वाहन बरामद कर 119 लोगों को आरोपित किया है। बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में टोरंटो पुलिस प्रमुख मायरोन डेमकीव ने कहा कि पुलिस बल ने शहर में वाहन चोरी के बढ़ते मुद्दे को हल करने के लिए नवंबर 2022 में प्रोजेक्ट स्टालियन लॉन्च किया। परियोजना शुरू होने के बाद से 119 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और उनके खिलाफ 314 आपराधिक आरोप दर्ज किए गए हैं। गिरफ्तार लोगों में बड़ी संख्या में पंजाबी भी हैं। डेमकीव के अनुसार, प्रोजेक्ट स्टैलियन अभी भी चल रहा है। ‘प्रोजेक्ट स्टैलियन’ मुख्य रूप से 22वें और 23वें डिवीजनों में एटोबिकोक क्षेत्र पर केंद्रित है। वहीं, टोरंटो पुलिस ने भी गिरफ्तार लोगों के नाम और उन पर लगे आरोपों की सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की है।
टोरंटो पुलिस द्वारा वाहन चोरी प्रोजेक्ट स्टालियन गिरफ्तार किए गए पंजाबी लोगों में निर्मल ढिल्लो, सुखविंदर गिल, जगजीत भिंडर, इकबाल हरे, प्रदीप ग्रेवाल, जतिन पटेल, वरिंदर कालिया, गुरवीन, रमनदीप सिंह, गगनदीप सिंह, संदीप ताखर, सतविंदर ग्रेवाल, प्रिंसदीप सिंह, वरिंदर कालिया, अमृत केलर, अजय कुमार, खेमनाथ, स्टीवन सिंह, इंकलाब सिंह, हरप्रीत सिंह, मनप्रीत गिल, मनदीप सिंह तूर, दिलप्रीत सिंह, त्रिदेव वर्मा, जोगा सिंह, दिलप्रीत सैनी, प्रिंसदीप सिंह, मनप्रीत गिल, दिलप्रीत सैनी, गौरवदीप सिंह, दिलप्रीत सैनी, जसदीप जांडा , अमनजोत संधू, मनप्रीत गिल, जसदीप सिंह के नाम शामिल हैं। टोरंटो पुलिस के एसपी रॉन टैवर्नर ने कहा कि इस अभियान में 11 अप्रैल तक 27 मिलियन डॉलर से अधिक मूल्य के 556 चोरी के वाहन बरामद किए गए हैं। अधिकांश संदिग्ध जीटीए में रहते हैं, हालांकि उनमें से एक दर्जन से अधिक क्यूबेक से हैं। कई संदिग्ध युवा अपराधी भी हैं। टैवर्नर ने कहा कि आरोपों का सामना कर रहे कुछ लोग अपने दम पर काम कर रहे थे, जबकि अधिकांश जीटीए में ऑटो चोरी में शामिल संगठित इकाइयों का हिस्सा थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here