चार धाम यात्रा में मौसम का व्यवधान

0
230

रूद्रप्रयाग प्रशासन ने की यात्रा रोकने की अपील

केदार व बद्री धाम में बर्फबारी
श्रीनगर में चारधाम यात्री रोके
भूस्खलन से कई घंटे हाईवे जाम


देहरादून। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के साथ सभी चारों धामों में वर्षा और बर्फबारी ने चारधाम यात्रियों को परेशानी में डाल दिया है वही बदरीनाथ हाईवे पर आज सुबह हुए भूस्खलन के कारण 3—4 घंटे तक जाम लगा रहा जिसके कारण हजारों यात्री फंसे रहे। मौसम की खराब स्थिति के मद्देनजर रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन द्वारा सरकार से चार धाम यात्रा को रोकने की अपील की गई है वही मौसम के खराब होने के कारण श्रीनगर में चारधाम यात्रियों को रोक दिया गया है।
बर्फबारी के बीच खुले चार धामों में भले ही अभी भी यात्रियों की आवाजाही बनी हुई हो लेकिन लगातार हो रही बारिश और बर्फबारी ने यात्रियों को मुश्किलों में डाला हुआ है। केदारधाम और बद्रीनाथ धाम में हुई ताजा बर्फबारी के कारण भीषण सर्दी का प्रकोप है जिसके कारण यात्रियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। खास बात यह है कि मौसम विभाग का कहना है अभी 2 और 3 मई को राज्य का मौसम और भी अधिक खराब रहने वाला है तथा सभी चारों धामों में भारी बर्फबारी होने की संभावना है ऐसी स्थिति में न सिर्फ यात्रियों की मुश्किलें बढ़ना तय है वहीं प्रशासन के लिए चारधाम यात्रियों की सुरक्षा और व्यवस्था की चुनौती बनी हुई है।
जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग का कहना है कि क्षेत्र में भारी बर्फबारी व बारिश के कारण यात्रियों को भारी परेशानी हो रही है तथा केदारधाम और गंगोत्री व यमुनोत्री धामों के साथ—साथ रास्ते भी बर्फबारी के कारण बंद हो रहे हैं। जिलाधिकारी द्वारा उत्तराखंड प्रशासन से अपील की गई है कि मौसम की विसंगतियों के मद्देनजर एक सप्ताह के लिए फिलहाल यात्रा को रोक दिया जाना चाहिए। उनका कहना है कि जिन लोगों ने अपने रजिस्ट्रेशन करा रखे हैं उनके रजिस्ट्रेशन के अनुसार यात्रा की तारीख को आगे बढ़ा देना चाहिए।
पहाड़ पर हो रही बारिश और बर्फबारी के कारण श्रीनगर में चारधाम यात्रियों को रोक दिया गया है जब तक मौसम साफ नहीं होगा इन यात्रियों को आगे नहीं जाने दिया जाएगा। यही नहीं अब हरिद्वार और ऋषिकेश में ही यात्रियों को रोकने की बात पर विचार किया जा रहा है। जिससे ऊपर यात्रियों का दबाव न बने। उधर बदरीनाथ हाईवे पर आज सड़क पर पहाड़ गिरने से तीन—चार घंटे तक जाम लगा रहा तथा सड़क के दोनों ओर 3 से 4 किलोमीटर लंबी वाहनों की लाइनें लग गई और यात्रियों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन द्वारा यात्रियों के लिए एसओपी जारी करते हुए सुरक्षित स्थानों पर रुके रहने को कहा गया है। केदारधाम की हैली सेवा भी खराब मौसम के कारण प्रभावित हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here