पढ़ाई में डांट से बचने के लिए बच्चे ने खुद ही तैयार की थी अपने अपहरण की रूप रेखा, खुलासा

0
125

हरिद्वार। पढ़ाई में डांट से बचने के लिए एक 11 वर्षीय बच्चे ने खुद के अपहण किये जाने का नाटक रच डाला। सूचना मिलने पर पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद इस बात का खुलासा किया है।
जानकारी के अनुसार बीते रोज ज्वालापुर पीठ बाजार निवासी अनुराग झा पुत्र लक्ष्मी नारायण झा ने चौकी रेल में तहरीर देकर बताया कि उनके 11 वर्षीय बेटे देव झा को अज्ञात बाइक सवारों ने ट्यूशन जाते समय अपहरण कर लिया था। लेकिन कुछ दूर जाकर बच्चा उनके चंगुल से भाग कर आया है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए एसएसपी हरिद्वार अजय सिंह के कड़े दिशानिर्देशों में ज्वालापुर पुलिस बच्चे और उसके परिजनों को लेकर पीठ बाजार घटनास्थल एवं हर उस रूट पर गई जहाँ बच्चे के अनुसार 3 स्पलेंडेर सवार और स्कूटी सवार एक अन्य युवक उसे अपहरण कर ले गए थे। बच्चे के अनुसार अपहर्ता उसे बाइक में बिठा के लोधमांडी ले गये। जहाँ वे किसी बाबा से बात करने लगे इसी दौरान मौका पाकर वह उनकी पकड़ से छूट कर भाग गया था।
इस पर पुलिस टीम द्वारा रूट के आसपास लगे करीब 2 दर्जन से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला गया पर कहीं ऐसी कोई फुटेज नही मिली कि जिसमें सभी अपहरणकर्ता व बच्चा नजर आया हो। इस पर पुलिस ने बच्चे को पूर्ण विश्वास में लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि वह पढ़ाईं में डाँट के कारण घरवालों से परेशान था इसलिए उसने फिल्मों में देखी घटनाओं से प्रेरित होके ये कहानी रच डाली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here