भारतीय सेना को मिले 314 युवा अधिकारी

0
56

देहरादून। भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) की पासिंग आउट परेड में अंतिम पग भरते ही 314 नौजवान भारतीय सेना का हिस्सा बन गये। इनके साथ ही 11 मित्र देशों के 30 विदेशी कैडेट्स भी पास आउट होकर अपने—अपने राष्ट्र की सेना में शामिल होंगे। पांसिग आउट परेड की सलामी मध्य कमान के जीओसी इन कमांड ले.ज. योगेन्द्र डिमरी द्वारा ली गयी। सैन्य धाम उत्तराखण्ड से भी 29 जेंटलमैन कैडेट भारतीय सेना में अफसर बन गये है।
आज सुबह 8 बजकर 55 मिनट पर मार्कर्स काल के साथ परेड शुरू हुई। कंपनी सार्जेंट मेजर प्रियाशुं त्यागी, नकुल सिंह तोमर, ओंकार, हिमाल श्र्रीश थापा, असीम आंनद व गौरव चौहान ने ड्रिल स्क्वायर पर अपनी—अपनी जगह ली। नौ बजे एंडवास काल के साथ ही पूरे जोश और जुनून के साथ कैडेट्स ने कदम बढ़ाते हुए परेड शुरू की और निजाम पवेलियन में पीपिंग और ओथ सेरेमनी पूरा करते ही 314 कैडेट्स भारतीय सेना का हिस्सा बन गये। अंतिम पग भरने के दौरान कैडेट्स पर हेलिकाप्टर से पुष्प वर्षा की गयी।
आईएमए की पासिंग आउट परेड में बेस्ट जेंटलमैन कैडेट का गोल्ड मेडल पवन कुमार को मिला है। बेस्ट कैडेट का सिल्वर मेडल जगजीत सिंह ने पाया है। ब्रांज मेडल पुरापू लिखित ने प्राप्त किया है।
चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ का सम्मान जोजिला कंपनी को मिला है. बेस्ट मित्र देशों के कैडेट का सम्मान नेपाल के अश्विनी को मिला है।
पास आउट होने वाले 314 भारतीय कैडेट्स में सबसे अधिक उत्तर प्रदेश के 51और हरियाणा के 30 जैंटलमैन कैडेट्स है। उत्तराखंड के 29 कैडेट्स भी आईएमए पासिंग आउट परेड का अंतिम पग भरते ही भारतीय सेना का हिस्सा बने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here