सिर्फ चालान से पुलिस ने कमा लिए 37 करोड़, फिर भी नहीं सुधरे लोग

0
299

देहरादून। उत्तराखण्ड पुलिस ने वर्ष 2022 में वाहनों के चालानों से 37 करोड 89 लाख रूपये की कमाई की जिसमें सीपीयू ने तीन करोड 65 लाख रूपये के चालान किये। लेकिन करोड़ों के चालान कटने के बावजूद लोग सुधरने का नाम नहीं ले रहे है।
काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन एडवोकेट ने पुलिस मुख्यालय उत्तराखंड के लोक सूचना अधिकारी से 2022 में पुलिस द्वारा किये गये वाहन चालानों तथा वसूले गयेे जुर्माने (संयोजन शुल्क) की सूूचना मांगी थी। इसके उत्तर में पुलिस मुख्यालय की लोक सूचना अधिकारी/अपर पुलिस अधीक्षक (कार्मिक) शाहजहां जावेद खान ने अपने पत्रांक 648 के साथ पुलिस महानिरीक्षक/ निदेशक यातायात उत्तराखंड मुख्तार मोहसिन द्वारा उपलब्ध कराये गये विवरणों की प्रतियां उपलब्ध करायी है। नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार उत्तराखंड पुलिस ने 2022 में कुल 6 लाख 92 हजार वाहनों के चालान किये हैै जिसमें 1 लाख 5 हजार चालान सी.पी.यू. की 4 जिलों की यूनिटों द्वारा तथा 5 लाख 87 हजार चालान अन्य पुलिस अधिकारियों द्वारा किये गये हैै। इन चालानों पर पुलिस द्वारा कुल 37 करोड़ 89 लाख का जुर्माना (संयोजन शुल्क) वसूला गया है। इसमें सी.पी.यू. द्वारा 3 करोड़ 65 लाख तथा अन्य पुलिस अधिकारियोें द्वारा 34 करोड़ 24 लाख का संयोजन शुल्क ( जुर्माना) वसूला गया हैै। सी.पी.यू. द्वारा किये गये चालानों में सर्वाधिक 36 हजार चालान देहरादूून जिले की यूनिटों द्वारा किये गये है तथा 1 करोड़ 8 लाख 99 हजार का जुर्माना वसूला गया है, जबकि दूूसरे स्थान पर उधमसिंह नगर जिले की यूनिटों ने 29 हजार 400 चालान किये व 93 लाख 45 हजार का जुर्माना वसूला गया हैै। हरिद्वार जिले की यूनिटों द्वारा 27 हजार 100 चालान किये व 1 करोड़ 8 लाख 75 हजार का जुर्माना वसूला गया। नैनीताल जिले की यूूनिट द्वारा 12 हजार 600 चालान किये गये तथा 54 लाख 25 हजार रूपये का जुर्माना वसूूला गया हैै। सी.पी.यू. के अतिरिक्त अन्य पुलिस अधिकारियों द्वारा किये गये चालानों में सर्वाधिक 1 लाख 34 हजार 500 चालान देहरादून जिले में किये तथा 10 करोड़ 26 लाख जुर्माना वसूला गया, उधमसिंह नगर जिले में 1 लाख 1 हजार 800 चालान तथा 7 करोड, उत्तरकाशी जिले में 6 हजार 900 चालान 27 लाख जुर्माना, टिहरी जिलेे में 70 हजार चालान, 3 करोड़ 48 लाख का जुर्माना, चमोली जिले में 16 हजार 500 चालान तथा 1 करोड़ 7 लाख जुर्माना, रूद्रप्रयाग जिले में 9 हजार 700 चालान तथा 47 लाख जुर्माना, पौैड़ी जिलेे में 33 हजार 100 चालान 1 करोड़ 26 लाख जुर्माना, हरिद्वार जिले में 80200 चालान, 3 करोड़ 03 लाख जुर्माना, नैैनीताल जिले में 60 हजार 400 चालान, 3 करोड़ 41 लाख जुर्माना, अल्मोड़ा जिले में 18 हजार 900 चालान, 1 करोड़ 24 लाख जुर्माना, बागेश्वर जिले में 14 हजार 200 चालान, 67 लाख जुर्माना, पिथौरागढ़ जिले में 25 हजार 300 चालान तथा 97 लाख जुर्माना, तथा चम्पावत जिले में 15 हजार 900 चालान किये गये तथा 81 लाख रूपये का शमन शुल्क (जुर्माना) वसूला गया हैै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here