वीर बाल दिवसः साहिबजादों के बलिदान की शौर्य गाथा की जानकारी छात्रों को दी

0
153


टिहरी। धर्मानंद उनियाल राजकीय महाविघालय नरेंद्र नगर, टिहरी गढ़वाल के हिंदी एवं पत्रकारिता विभाग के संयुक्त तत्वावधान में खालसा पंथ के संस्थापक और सिख धर्म के दसवें गुरु गोविंद सिंह के पुत्रों साहिबजादे जोरावर सिंह व फतेह सिंह के बलिदान को सम्मान देने के लिए आज वीर बाल दिवस मनाया गया।
इस अवसर पर पत्रकारिता विभाग के प्राध्यापक डॉ विक्रम सिंह बर्त्वाल ने धर्म और सत्य के लिए गुरु गोविंद सिंह के योगदान और साहिबजादों के बलिदान की शौर्य गाथा की जानकारी छात्रों को दी है।
पत्रकारिता विभाग की प्रभारी डॉ सृचना सचदेवा ने साहिबजादों का धर्म और नेकी के लिए त्याग की प्रेरणा का स्रोत उनकी दादी मां गुजरी देवी को बताया।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए हिंदी विभाग के प्रभारी डॉ जितेंद्र नौटियाल ने वीर बाल दिवस के साथ—साथ राष्ट्रीय सुशासन दिवस के संबंध में छात्र—छात्राओं से जानकारी साझा की। विदित हो कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के जन्मदिन को राष्ट्रीय सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है।
डॉ नौटियाल ने साहिबजादों के बलिदान को हिंदुस्तान की युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा का स्रोत बताया। इस अवसर पर छात्र मनीष, महेश, ज्योति, नीतू,सविता आदि के अलावा कॉलेज प्राध्यापक और कर्मचारी विशेष रूप से मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here