स्पेशल टास्क फोर्स भारत के टॉप 3 साइबर इकाइयों में से एक घोषित

0
3807

देहरादून। डाटा सिक्योरिटी काउंसिल आफ इंडिया द्वारा उत्तराखंड एसटीएफ को भारत की टाप तीन साइबर इकाईयों में से एक घोषित किया है।
डाटा सिक्योरिटी काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा देश भर से 40 विभिन्न स्टेट एवं एजेंसीज में से प्रथम 3 स्टेट एजेंसीज का चयन किया जिनके द्वारा एक्सीलेंस इन केपेसिटी बिल्डिंग फार ला इन्फोर्समेट एजेसी की श्रेणी में उत्तराखंड पुलिस का चयन भी हुआ। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ उत्तराखण्ड आयुष अग्रवाल की अगुवाई में एसटीएफ के अधीन साइबर थाने देहरादून में विगत एक वर्ष में निरंतर विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम अभियान चलाए गये हैं।
उत्तराखंड साइबर पुलिस के ढांचे में वर्तमान में ई—सुरक्षा चलाया जा रहा है जिस क्रम में एसटीएफ उत्तराखंड के लिए पुलिस की नोडल एजेंसी है जो लगातार भारत के इंडियन साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर के साथ समन्वय स्थापित कर साइबर अपराधों के रोकथाम, उनके अनावरण एवं प्रशिक्षण में निरंतर प्रयास कर रही है। साइबर थाना देहरादून देश का सर्वप्रथम थाना था जिसने साइबर के मामलों में पीड़ित की मदद हेतु जीरो एफआईआर की प्रक्रिया को अपनाया जिसको बाद में गृह मंत्रालय के द्वारा भी सराहा गया है। सरकार के सीसीपीडब्लूसी प्रोजेक्ट के तहत दिए गए लक्षण को स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा 100 प्रतिशत पूर्ण किया गया है एवं कुछ लक्ष्य को 160 प्रतिशत पूर्ण किया गया हैं। इस प्रोजेक्ट के माध्यम से साइबर थाना देहरादून द्वारा न्यायाधीशों अभियोजन अधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों आदि को साइबर संबंधित विस्तृत प्रशिक्षण भी प्रदान किया है। 300 पुलिस कर्मियों को प्रारंभिक प्रशिक्षण, 148 कर्मियों को बेसिक कम एडवासिड डिजिटल इन्वेसटिगेशन, जिलों में पढ़ाने वाले 30 कर्मियों को ट्रेनिंग आफ टेर्नर (टीओटी) प्रशिक्षण दिया गया है।
इसके अतिरित्तQ पुलिस उपाधीक्षक साइबर थाना अंकुश मिश्रा द्वारा तीन दिवसीय साइबर प्रशिक्षण प्रोग्राम झारखंड पुलिस को रांची में दिया गया। देश की समस्त पुलिस एवं सेंट्रल एजेंसीज के लगभग 1000 ऑफिसर एवं कर्मियों को साइबर संबंधित प्रशिक्षण दिया गया। इसके अतिरिक्त एसटीएफ देहरादून द्वारा समय—समय पर विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।
यह सभी प्रयास अभियोगों के अनावरण के अतिरिक्त किया जा रहे हैं जहां साइबर थाने देहरादून द्वारा देश भर से गिरफ्तारियां की जा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ उत्तराखण्ड आयुष अग्रवाल की अगुवाई में स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा किए जा रहे सभी प्रयासों को डाटा सिक्योरिटी काउंसिल आफ इंडिया द्वारा सराहा गया है एवं भारत के प्रथम तीन साइबर एकायों में से चयन किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here