गोली चलाकर पकड़ा अंर्तराज्यीय वाहन चोर गिरोह का सदस्य, थार बरामद

0
322

हरिद्वार। गोलियां चलाते हुए 48 घंटे के भीतर अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने चुरायी गयी थार सहित गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी चौपहिया वाहन चुराने का एक्सपर्ट हैं। जिस पर राजस्थान सहित अन्य राज्यों में 51 मुकदमे दर्ज है। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह द्वारा प्रेस वार्ता कर बताया गया कि बीती 28 जुलाई को अतंमलपुर बोंगला निवासी मनीष कुमार के घर के बाहर खड़ी उनका थार वाहन अज्ञात चोरों द्वारा चुरा लिया गया था। पीड़ित की तहरीर पर बाहदराबाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी थी। मामले में पुलिस चोरों का सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पीछा कर रही थी जो कि हरियाणा पहुंच गये थे। बताया कि पलवल से करमन टोल प्लाजा की ओर जाते हुए वादी मनीष कुमार ने जब तस्दीक किया कि आगे चल रही काले रंग की थार उसी की है। तो पुलिस ने सही स्थान देेखकर अपना निजी वाहन थार गाड़ी के ठीक सामने लगा दिया। थार रोकने के इस प्रयास पर आरोपी ने तेजी के साथ वाहन (थार) को बैक लेकर भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस की त्वरित कार्रवाई के कारण अन्य कोई रास्ता न होने के चलते आरोपी बहुत तेजी से थार को लेकर भागने लगे। जिस पर अंतिम विकल्प के तौर पर पुलिस ने कुछ रांउड फायर कर थार के टायर को पंचर कर दिया और आरोपी को वाहन सहित पकड़ लिया। पड़ताल करने पर जानकारी मिली कि आरोपी रतन पुत्र बत्तु सिंह निवासी राजस्थान अपनी टीम के साथ मिलकर वाहनों के पूरे लाँक सिस्टम को ही बदलकर नया लाँक सैट कर नई चाबी की मदद से गाडी चोरी कर लेता था और फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर भारत के अन्य राज्यों में बेच देता था। हालांकि इस दौरान उसका एक साथी फरार होने में सफल रहा जिसकी तलाश जारी है। पुलिस के अनुसार आरोपी रतन वर्ष 2017 में जेल में रहने के दौरान फरार आरोपी के सम्पर्क में आया और इसी महीने जमानत पर छूटने एवं भारत के कई राज्यों में चल रहे मुकदमों में हो रहे खर्चाे से आर्थिक तंगी व अन्य कोई काम न जानने के कारण हरिद्वार आया व अपने साथी के साथ मिलकर बहादराबाद क्षेत्र से थार चोरी की घटना को अंजाम दिया। जिसे वह मेवात में बेचने की फिराक में थे। आरोपी रतन सिंह पर राजस्थान सहित विभिन्न राज्यों में 51 मुकदमें पंजीकृत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here