पीएम मोदी पर करन माहरा की टिप्पणी को लेकर बवाल

0
75

किसी की आस्था पर सवाल उठाने का किसी को भी अधिकार नही

देहरादून। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर की गई टीका टिप्पणी को लेकर सीएम पुष्कर सिंह धामी और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कड़ी आपत्ति जताई है। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी को अपनी ख्याति और आस्था को लेकर किसी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है।
दरअसल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ आने और पूजा पाठ को लेकर टिप्पणी की थी कि मोदी हमारी धरती पर आते हैं और ऐसे दर्शाते हैं कि वह शिव से भी बड़े हैं। उन्होंने पीएम की शिव भक्ति को दिखावा बताते हुए कहा कि उनके द्वारा एक बार भी अंकिता भंडारी की हत्या पर बात नहीं की जाती है। करन माहरा की इस टिप्पणी को लेकर भाजपा नेताओं ने तीखी प्रतिक्रियायें व्यक्त की गई है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उनके इस बयान पर आपत्ति करते हुए कहा कि कौन किसकी पूजा करता है कैसे करता है? क्यों करता है इस पर टिप्पणी करने का अधिकार किसी को भी नहीं है। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उत्तराखंड और केदार प्रेम किसी से छुपा नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ के पुनर्निर्माण के लिए क्या किया है और उनकी देश विदेश में कितनी ख्याति और मान्यता है। इसके लिए उन्हें किसी के प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है।
उधर इस मुद्दे पर प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भटृ द्वारा भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा गया है कि कांग्रेसी नेताओं के पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ उल्टा—पुलटा बोलने के अलावा कोई अन्य काम नहीं रह गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ के पुनर्निर्माण के लिए जो काम किए हैं उन्हें कांग्रेस नेता पचा नहीं पा रहे हैं। मोदी अगर केदारनाथ जाकर शिव की पूजा करते हैं तो उन्हें किसने रोका है वह जाए और पूजा करे लेकिन किसी की आस्था पर इस तरह सवाल उठाने का किसी को भी हक नहीं है। यह कांग्रेसी नेताओं का मानसिक दिवालियापन ही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here