कुख्यात जीवा की पुलिस हिरासत में हत्या

0
326

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के लखनऊ में कैसरबाग कोर्ट परिसर में मुख्तार अंसारी के करीबी गैंगस्टर संजीव महेश्वरी जीवा की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। एक बच्ची को भी गोली लगी है। जीवा की जिस वक्त हत्या हुई उस समय वह पुलिस हिरासत में था। हत्यारे वकील बनकर आए थे। मारा गया गैंगस्टर कृष्णा नंद राय हत्याकांड का आरोपी था। पश्चिमी उत्तर प्रदेश का इसे दुर्दांत अपराधी माना जाता था। पिछले साल शामली में भी इसके ऊपर केस दर्ज हुए थे। एके 47 बेचने का आरोप भी संजीव जीवा पर था। मारे गए अपराधी को अपराध की दुनिया में डॉक्टर के नाम से जाना जाता था। यह मूल रूप से मुजफ्फरनगर का रहने वाला था।
यूपी में दो महीने के भीतर पुलिस हिरासत में किसी की हत्या का यह दूसरा मामला है। इससे पहले प्रयागराज में 15 अप्रैल को माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ अहमद की पुलिस हिरासत के दौरान बाहर से आए बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। वारदात में एक पुलिसकर्मी भी घायल हुआ है।
संजीव जीवा पश्चिमी यूपी में शामली जिला के गांव आदमपुर का रहने वाला था. वो पहले मुन्ना बजरंगी गैंग के लिए काम करता था। बाद में वो मुख्तार अंसारी के लिए काम करने लगा था। संजीव पर यूपी-उत्तराखंड में करीब 50 मुकदमे दर्ज हैं. संजीव की पत्नी पायल 2017 में मुजफ्फरनगर से रालोद के टिकट पर विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुकी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here