बिहार में दारू पीकर मरने से सरकार मुआवजा नहीं देगी : नीतीश कुमार

0
112


पटना। बिहार के छपरा जिले में जहरीली शराब से कई लोगों की मौत के बाद सदन में हंगामा मचा हुआ है। आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा के सत्र में भाषण दिया। नीतीश ने कहा कि बिहार में दारू पीकर मरने से सरकार मुआवजा नहीं देगी। उन्होंने कहा, “अगर कोई शराब पिएगा और गड़बड़ पिएगा तो वो मरेगा। अगर कोई शराब पीकर मर जाता है, तो उसके प्रति दया नहीं रखनी चाहिए। लोगों को शराब पीने से मना करना चाहिए।”
बिहार के जहरीली शराब कांड में छपरा समेत कई जिलों में मरने वालों की संख्या शुक्रवार (16 दिसंबर) को 60 तक पहुंच गई है। छपरा में जहरीली शराबकांड के चलते एसएचओ रितेश मिश्रा और कांस्टेबल विकेश तिवारी को गुरुवार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।
इस बीच, भारतीय जनता पार्टी के सांसद सुशील मोदी ने गुरुवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उनकी टिप्पणी पर माफी मांगने की मांग की है। सुशील मोदी ने कहा कि विधानसभा में नीतीश कुमार के व्यवहार में शालीनता नहीं थी। उन्हें अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। मोदी ने कहा, “पिछले छह सालों में जहरीली शराब के कारण बिहार में 1000 से अधिक लोग मारे गए है। क्या बिहार में पुलिस का राज है? जिस तरह से नीतीश कुमार ने विधानसभा में व्यवहार किया, वह शालीनता नहीं है, उन्हें माफी मांगनी चाहिए।” बता दें कि अप्रैल 2016 में नीतीश कुमार ने बिहार में शराब की बिक्री और खपत पर पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here