भर्ती परीक्षाओं पर आयोग का बड़ा फैसला:
दोबारा कराई जाएंगी परीक्षाएं

0
53

नए अभ्यर्थी नहीं होंगे शामिल
नकल में जिनके नाम, परीक्षा से बाहर

देहरादून। अधीनस्थ चयन सेवा आयोग द्वारा आज सचिवालय रक्षक, वन दरोगा और स्नातक स्तर की उन भर्ती परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है जिनके परीक्षा परिणाम घोषित किए जा चुके थे। इनकी परीक्षाएं अब दोबारा कराई जाएंगी।
उल्लेखनीय है कि आयोग द्वारा बीते कल एल—टी परीक्षा को हरी झंडी दे दी गई थी वही सात परीक्षाओं के बारे में शासन से राय लेने के बाद फैसला लेने की बात कही गई थी। जिन सात भर्ती परीक्षाओं में धांधली का मामला सामने आया था और जिसकी जांच सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी एसएस रावत की अध्यक्षता वाली समिति को सौंपा गया था जिसकी जांच आयोग को सौंपें जाने के बाद से ही आयोग द्वारा यह फैसला किया गया कि जिन सात भर्तियों में घोटाले (नकल) की बात सामने आई है उसमें वैयक्तिक सहायक, कनिष्ठ सहायक, पुलिस रैंकर्स, वाहन चालक, अनुदेशक और मत्स्य निरीक्षक और मुख्य आरक्षी दूरसंचार की भर्तियां शामिल है।
इस विषय में आयोग के नए अध्यक्ष जीएस मार्ताेलिया का कहना है कि इन भर्तियों में यह पहचान किया जाना मुश्किल काम है कि किस अभ्यर्थी द्वारा नकल के आधार पर परीक्षा पास की गई और किसने अपनी योग्यता के आधार पर परीक्षा पास की। इसकी पहचान या चिन्हीकरण काम मुश्किल है। इसलिए अब दोबारा परीक्षा कराना ही एक विकल्प है। उनका यह भी कहना है कि इस परीक्षा में सिर्फ उन्हीं अभ्यर्थियों को शामिल किया जाएगा जिन्होंने पूर्व में परीक्षा दी है नए अभ्यर्थी इसमें शामिल नहीं किए जाएंगे। वहीं उन्होंने कहा कि जिन लोगों के नाम इस भर्ती प्रकरण में धांधली (नकल) में प्रकाश में आए हैं उन्हें भी परीक्षा में नहीं शामिल किया जाएगा। उनका कहना है कि नकल प्रकरण में जिनके नाम सामने आए हैं उन्हें अन्य किसी भर्ती परीक्षा में नहीं बैठने दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here