धामी ने प्रधानमंत्री से किया अनुरोध:
राज्य को ऊर्जा प्रदेश बनाने में करें मदद

0
122

राज्य के गांवों तक इंटरनेट सेवा पहुंचाने की गुहार
संसद हमले के शहीदों को किए श्रद्धा सुमन अर्पित

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और संसद भवन पर हुए आतंकी हमलों के शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित किए।
प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि प्रधानमंत्री से मिलकर उन्होंने राज्य की तमाम विकास योजनाओं पर विस्तार से बातचीत की है। उन्होंने कहा कि खासतौर में उन्होंने राज्य की जल विघुत परियोजनाओं की बाधाएं को दूर करने का आग्रह किया है जो केंद्रीय मंत्रालयों में विभिन्न आपत्तियों के कारण अधर में लटकी हुई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य गठन के बाद राज्य में असीमित ऊर्जा उत्पादन की संभावनाओं को देखते हुए अनेक परियोजनाओं को शुरू किया गया लेकिन इनमें से अनेक योजनाएं विभिन्न मंत्रालयों में छोटी—मोटी आपत्तियों के कारण अटकी पड़ी है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि इन परियोजनाओं की बाधाएं दूर करने का मार्ग प्रशस्त करें। मुख्यमंत्री धामी ने बताया कि इसके अलावा उन्होंने राज्य में इंटरनेट सेवा की सुविधा पर भी बात की है। उन्होंने कहा कि राज्य के 600 से अधिक गांव ऐसे हैं जहां तक इंटरनेट सेवा अभी भी नहीं पहुंच पाई है जिसके कारण खासतौर से विघार्थियों को भारी नुकसान हो रहा है और उनकी पढ़ाई लिखाई ठीक से नहीं हो पा रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा राज्य के सीमांत गांवों के विकास की योजनाओं के लिए कुछ गांवों का चयन किया गया। उन्होंने कहा कि अभी माणा में कार्यक्रम के दौरान सीमांत गांव को प्रथम गांव होने की बात कही गई थी उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि सिर्फ कुछ सीमांत गांवों को ही इस योजना में शामिल न किया जाए बल्कि इस योजना का दायरा अधिक से अधिक सीमांत गांवों तक बढ़ाया जाए।
सीएम धामी ने कहा कि आज संसद पर हमले की सालगिरह है उन्होंने भी इस हमले के शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित किए हैं। सूत्रों के अनुसार सीएम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जी—20 के उन दो कार्यक्रमों के बारे में भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं जो ऋषिकेश और मुनी की रेती में आयोजित किए जाने हैं। वही बद्रीनाथ और केदारनाथ के विकास कार्यों को हर हाल में 2023 के अंत तक पूरा करने को कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here