छात्रा की गोली मारकर हत्या करने वाला गिरफ्तार

0
442

देहरादून। सोशली मीडिया पर कमेन्ट करने पर छात्रा के द्वारा नाराजगी दिखाने व सीनियर छात्रों द्वारा समझाने से नाराज छात्र ने गोली मारकर छात्रा की हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया हैै।
आज इसकी जानकारी देते हुए डीआईजी/एसएसपी जन्मेजय खण्डूरी ने बताया कि गत दिवस ग्राम प्रधान डांडा लखौंड द्वारा टेलीफोन थानाध्यक्ष रायपुर को सूचना दी गयी कि, सिद्धार्थ लॉ कालेज के पास एक युवक एक युवती को गोली मारकर फरार हो गया है। सूचना पर तत्काल थानाध्यक्ष रायपुर मय पुलिस बल के मौके पर पहुंचे व गम्भीर अवस्था में घायल पडी युवती को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां चिकित्सको द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल व तमंचा बरामद किया गया। घटना के सम्बन्ध में मृतका के पिता राकेश बंसल की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। आज पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि हत्या की घटना को अंजाम देने वाले आदित्य तोमर कोे शिवगंगा एन्क्लेव के निकट स्थित आर्मी हास्टल के पास झाडियों सें बाहर आते हुए देखा गया है। सूचना पर पुलिस टीम द्वारा शिवगंगा एन्क्लेव के आस—पास के क्षेत्र की घेराबंदी करते हुए शिवगंगा एन्क्लेव के समीप से आदित्य तोमर पुत्र स्व. अनिल तोमर को गिरफ्तार कर लिया गया। जिसके कब्जे से पुलिस ने घटना के समय इस्तेमाल किया गया मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है। पूछताछ में आदित्य तोमर द्वारा बताया गया कि वह एक माह पूर्व वंशिका द्वारा सोशल मीडिया पर अपनी एक फोटो अपलोड की गयी थी, जिस पर मेरे द्वारा कमेंट किया गया था। जिसको लेकर वंशिका तथा मेरे बीच कहासुनी हो गयी तथा वंशिका द्वारा सीनियर छात्रों से इस सम्बन्ध में मेरी शिकायत की गयी, जिनके द्वारा मेरे परिजनों को इसकी जानकारी दी गयी थी। उसके पश्चात कालेज बन्द हो गया तथा कालेज के खुलने पर शाम को मेरी मुलाकात कालेज के गेट के सामने वंशिका से हुई जिसने मौके पर अपने परिचित सीनियर छात्रों को बुला लिया जिनके द्वारा मुझे डरा धमकाकर मुझसे जबरदस्ती वंशिका के पैर छूकर उससे माफी मगंवाई गयी। इस बात को लेकर मैं आवेश में आ गया और पूर्व से मेरे पास रखे एक तमंचे को लेकर वापस कालेज के पास आया। कालेज के पास ही स्थित दैनिक उपयोग की दुकान में मुझे वंशिका मिली, जहां मैने उसे तंमचा दिखाकर उन लोगों को बुलाने की बात कही। इसी बीच हम दोनो के बीच हुई कहासुनी में मैने वंशिका को गोली मार दी और पकडे जाने के डर से मैं अपनी मोटर साइकिल व तमंचा मौके पर ही छोडकर वहां से फरार हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here