सेना ने ‘सर्वोच्च समर्पण’ के लिए अपने एक खच्चर को सम्मानित किया

0
181

नयी दिल्ली। वीरता के लिए एक अनोखे पुरस्कार में, भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश के यांग्त्से में चीन के साथ हालिया संघर्ष के दौरान ‘अनुकरणीय उत्सुकता और कर्तव्य से परे सर्वोच्च समर्पण’ दिखाने के लिए अपने एक खच्चर को सम्मानित किया है। उसे सेना दिवस पर सेना प्रमुख के प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया। बताया गया कि खच्चर को यांग्त्से के पास फॉरवर्ड पेट्रोलिंग पॉइंट के परिचालन वातावरण में काम सौंपा गया था। सेना ने कहा, ‘बेहद थका देने वाले और दुर्गम परिस्थितियों को सहन करने वाला खच्चर, पशु परिवहन काफिले में सबसे आगे खड़ा था। भारी बारिश और फिसलन जैसी बाधाओं के बावजूद, खच्चर ने फुर्ती दिखाई।’ खच्चर छह साल का है और अब तक लगभग 6500 किलोग्राम का भार उठा चुका है और सेना के साथ 750 किलोमीटर की दूरी तय कर चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here