करोड़ो की धोखाधड़ी करने वाले गैंग की महिला लीडर गिरफ्तार

0
214

  • कई जनपदों में है मुकदमें दर्ज, 61.500 का था ईनाम

देहरादून। राजधानी दून सहित सात जिलों में कई लोगों के साथ करोड़ों रूपये की धोखाधडी करने वाली ईनामी महिला गैंग लीडर को एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। गैंग के तीन सदस्य पूर्व में ही गिरफ्तार किये जा चुके है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने बताया कि वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी हेतू चलाये जा रहे अभियान ’’आप्ररेशन प्रहार’’ के तहत एसटीएफ द्वारा ं जनपद बागेश्वर, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, जनपद चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी तथा देहरादून के विभिन्न थानों में करीब 15 मुकदमों में वांछित चल रही महिला आरोपी मोनिका कपूर पत्नी सन्दीप कपूर निवासी 345 पंजाबी बाग, प्रगति अपार्टमेन्ट दिल्ली को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस पर 4 जनपदो से अलग—अलग कुल 61, 500 रूपये का ईनाम घोषित किया गया था। बताया कि इन जनपदों में इस महिला के खिलाफ करीब 15 मुकदमें दर्ज है।
बताया कि गिरफ्तार मोनिका कपूर जनशक्ति मल्टी स्टेट मल्टी परपज को—ऑपरेटिव सोसाईटी लि. नामक कम्पनी की निदेशक थी, जिसका मुख्यालय राठी बिल्डिंग,बीना एन्कलेव नागलोई दिल्ली था। जिसके द्वारा अपने साथियों के साथ मिलकर उक्त कम्पनी बनाई तथा वर्ष 2015 से उत्तराखण्ड के अलग—अलग जनपदों के शिक्षित व बेरोजगार नवयुवको को कम्पनी मे कम्पनी का प्रचार करने व अन्य नवयुवको को जोडने व उनसे निवेश कराने हेतु प्रेरित किया। जिससे स्थानीय बेरोजगार नवयुवक कम्पनी से जुड गये तथा आरोपी के अनुसार व आश्वासन पर कम्पनी के खातो में उनके बचत खाते खुलवाये गये। जिनके द्वारा कम्पनी के खातो में धनराशि जमा कराई गई। जिनसे समय—समय पर धनराशि आहरित की जाती थी। जिससे स्थानीय व्यक्तियों को कम्पनी में खाता खोलने पर पुरा यकीन हो गया था। जब कम्पनी में लोगों की काफी धनराशि जमा हो गई और उनकी आर.डी./ बचत पत्र का समय पूर्ण होने लगा तो वर्ष 2021 के अन्त में कम्पनी फरार हो गई थी। जिस पर मामला दर्ज करते हुए पुलिस ने पूर्व में ही कम्पनी के पदाधिकारी कपिल देव राठी, पकॅज गम्भीर व अनिल रावत को गिरफ्तार कर लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here