रंगदारी मामले में आंतकी अर्शडाला का सहयोगी हरिद्वार से गिरफ्तार

0
135

  • भारी मात्रा में हथियार बरामद

देहरादून। उत्तराखण्ड एसटीएफ एवं दिल्ली स्पेशल सेल द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए रंगदारी मामले में कुख्यात बदमाश (आतंकी) अर्शडाला के सहयोगी को जनपद हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी के कब्जे से भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी की गयी है। हालांकि इससे पूर्व दिल्ली की स्पेशल सेल द्वारा अर्शडाला के शूटर राजप्रीत उर्फ राजा उर्र्फ बम को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। जिससे हुई पूछताछ के बाद यह गिरफ्तारी की गयी है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि रंगदारी एवं धमकी देने के मामले में थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार में पंजीकृत मुकदमेंं में कुख्यात अपराधी अर्शप्रीत उर्फ अर्शडाला के सहयोगियों की धरपकड़ हेतु उत्तराखंड एसटीएफ द्वारा प्रयास किये जा रहे थे। बीते रोज उत्तराखण्ड एसटीएफ एवं स्पेशल सेल दिल्ली की संयुक्त टीम द्वारा थाना मंगलौर के ग्राम टिकोला मेंं दबिश देकर अर्शडाला के सहयोगी सुशील कुमार को गिरफ्तार किया गया है।
एसटीएफ एसएसपी द्वारा बताया गया कि इससे पूर्व दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल द्वारा अर्शदीप उर्फ अर्शडाला के शूटर राजप्रीत सिंह उर्फ राजा बम पुत्र गुरुचरण सिंह को गिरफ्तार किया गया था, जिससे पूछताछ में अर्शडाला के सहयोगी सुशील कुमार पुत्र स्व. जयकरण सिंह निवासी ग्राम टिकोला थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार का नाम प्रकाश में आया था। आरोपी सुशील कुमार द्वारा रंगदारी प्रकरण में पीड़ित से पुरानी रंजिश होने के कारण अर्शप्रीत अर्फ अर्शडाला के माध्यम से सिगनल एप के द्वारा रंगदारी एवं जान से मारने की धमकी दिलवायी गयी थी।
अर्श डल्ला को नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने पिछले साल आतंकी घोषित किया था। 27 वर्षीय अर्श डाला मूल रूप से पंजाब के मोगा जिले के डाला गांव का रहने वाला है। वह अब कनाडा में रहता है। उस पर पंजाब में आतंकी फंडिंग, सीमा पार से हथियारों की तस्करी और कई टारगेट किलिंग को अंजाम देने का आरोप है। सितम्बर 2023 को कनाडा में अर्श डाला के करीबी सुखविन्दर गिल उर्फ सुक्खी दुनेकी की हत्या हो गयी थी, इस हत्या की जिम्मेदारी लॉरेन्स बिश्नोई गैंग ने ली थी। अर्श डाला को शक था की उक्त हत्या मे लॉरेन्स बिश्नोई गैंग की मदद पंजाबी संगीत उघोग जगत के सैलिब्रिटी एली मंगत निवासी पंजाब ने की थी, जिस कारण अर्श डाला एली मंगत को अपने शूटर राजप्रीत उर्फ राजा उर्फ बम के माध्यम से हत्या करवाना चाहता था। दिल्ली स्पेशल सेल ने बीती 26 नवम्बर को राजप्रीत सिंह उर्फ राजा बम सहित अर्श डाला गैंग के 4 शूटरो को गिरफ्तार किया तथा इसी क्रम में एसटीएफ उत्तराखण्ड व स्पेशल सेल दिल्ली की संयुक्त कार्यवाही में बीती शाम सुशील कुमार पुत्र स्व. जयकरण सिंह निवासी ग्राम टिकोला को गिरफ्तार किया गया। आरोपी सुशील कुमार राजप्रीत उर्फ राजा बम का करीबी है तथा उनको हथियार सप्लाई करता था। अर्श डाला का मुख्य शूटर राजप्रीत उर्फ राजा बम पंजाब में हुये एक हत्या के मुकदमे में फरार चल रहा था, छिपने के लिये जनवरी 2023 से जुलाई 2023 तक सुशील कुमार के घर ग्राम टिकोला हरिद्वार में रहा और इस दौरान अर्श डाला से बात करता रहा और सुशील कुमार की भी जान पहचान अर्श डाला से करवायी। सुशील कुमार द्वारा अर्श डाला से सिगनल एप के माध्यम से बात की तथा टिकोला निवासी कविन्द्र प्रमुख को अर्श डाला से धमकी दिलवायी गयी थी। सुशील कुमार के घर से भारी मात्रा में हथियार व कारतूस बरामद हुये, जिससे पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here