जोशीमठ के आपदा प्रभावित किसानों को ऋण वापसी में राहत

0
345

छात्र अपना परीक्षा केंद्र खुद चुन सकते हैंः धन सिंह

जोशीमठ। जोशीमठ आपदा से प्रभावित लोग कई तरह की समस्याओं का सामना कर रहे हैं। लोगों को बेघर होने के कारण अपने विस्थापन की समस्या से ही नहीं अपितु कई तरह की समस्याओं को झेलना पड़ रहा है। जिन किसानों ने बैंक से ऋण ले रखा है था वह अपना कर्ज कैसे चुकाएं कैसे उसका ब्याज चुकायें एक बड़ी समस्या थी। सरकार द्वारा अब इन किसानों के कर्ज पर ब्याज वसूली से राहत देने की घोषणा कर दी गई है।
काबीना मंत्री धन सिंह रावत ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि जिन किसानों द्वारा जिला सहकारी बैंक से कृषि ऋण लिया गया था उन्हें अभी ब्याज जमा नहीं कराना पड़ेगा उनका कहना है कि उनके जब हालात सामान्य हो जाएंगे तब वह ब्याज जमा कर सकते हैं। उन्होंने उन प्रभावित छात्र—छात्राओं के बारे में भी कहा कि जिन बच्चों को हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं देनी है वह अपनी सहूलियत के हिसाब से अपने सेंटर का चयन कर सकते हैं। उनका कहना है कि आपदा प्रभावितों की हर समस्या को लेकर सरकार पूरी तरह गंभीर है।
उल्लेखनीय है कि क्षेत्र के तमाम स्कूलों को अब खाली कराया जा रहा है जहां राहत शिविर बनाए गए थे। कल 1 फरवरी से प्रैक्टिकल परीक्षाएं शुरू हो रही है जबकि 16 मार्च से बोर्ड की परीक्षाएं होने वाली हैं छात्रों का आपदा के कारण साल खराब न हो सरकार अब उन्हें मनमाफिक परीक्षा केंद्र चुनने की सुविधा दे रही है। उल्लेखनीय है कि सरकार आपदा प्रभावितों के बिजली बिल व पेयजल बिल पहले ही माफ कर चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here