पहाड़ पर बारिश से भारी तबाही

0
309

बदरीनाथ हाईवे का 50 मीटर हिस्सा बहा
हजारों यात्री फंसे, वाहनों की लंबी कतारें
अगस्तमुनि बाजार में पानी और मलबा घुसा

देहरादून। उत्तराखंड में बीते 5 दिनों से हो रही ताबड़तोड़ बारिश से भारी तबाही हो रही है बीती रात रूद्रप्रयाग चमोली और उत्तरकाशी में भारी बारिश से सड़कों को भारी नुकसान हुआ है भूस्खलन के कारण केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे जगह—जगह बंद हो गए हैं, बदरीनाथ हाईवे का एक बड़ा हिस्सा बह जाने के कारण मार्ग बंद हो गया है और वाहनों की लंबी कतारें लगी हुई है हजारों की संख्या में लोग फंसे हुए हैं। वहीं अगस्त्यमुनि बाजार में पानी भर गया है।
उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग द्वारा राज्य में 25 जुलाई तक बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। बीती रात रूद्रप्रयाग और गौचर बॉर्डर पर अगस्त मुनि व नगरासू के बीच हाईवे का 50 मीटर से अधिक हिस्सा बह जाने से बद्रीनाथ हाईवे बंद हो गया है। कर्णप्रयाग से बद्रीनाथ तक हाईवे पर कई नए भूस्खलन जोन विकसित हो गए हैं जो बड़ी मुश्किल का सबब बने हुए हैं। जिसके कारण हजारों यात्री फंस गए हैं। और मार्ग पर दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लगी हुई है। गौचर में भारी बारिश के कारण पहाड़ से आए मलबे में पार्किंग में खड़े पांच वाहन दब गए हैं। उत्तरकाशी में भी बीती रात से भारी बारिश के कारण गंगोत्री—यमुनोत्री तथा केदारनाथ राजमार्गों पर कई स्थानों पर मलबा आने से आवागमन बाधित हो गया है।
उधर 2 दिन पूर्व पुरोला में भारी बारिश से हुई तबाही का जायजा लेने पहुंचे आपदा सचिव विनय शंकर ने आज प्रभावित लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। राज्य में अभी 25 तक कहीं भारी तो कहीं सामान्य बारिश होने की संभावना के मद्देनजर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here