युवाओं को सेना में भर्ती का सुनहरा मौका : सरकार ने लांच की अग्निपथ योजना

0
310

हर साल 45 से 50 हजार भर्तियां होंगी
सिर्फ 4 साल का होगा सेवाकाल
25 फीसदी कोे रेगुलर कैडर दिया जा सकता है
10 हफ्ते से 6 माह तक ट्रेनिंग दी जाएगी

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना के तहत अग्नि वीरों की भर्ती किए जाने की घोषणा करते हुए कहा कि यह देश की रक्षा जरूरतों और रोजगार के अवसर के लिहाज से लाई गई एक महत्वपूर्ण योजना है। उन्होंने कहा कि हमने किसी की नकल नहीं की है हम जानते हैं कि नकल से अकल को बदलने की कोशिश करने वालों की शक्ल बदल जाती है। इस अवसर पर आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे सहित वायु सेना और नौसेना प्रमुख भी मौजूद थे।
योजना के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि देश के हर नौजवान का सपना होता है सेना की वर्दी पहनना। देश के युवाओं को यह योजना इसका बेहतर मौका होगा। उन्होंने कहा कि योजना के तहत हर साल 45 से 50 हजार युवाओं की सेना में भर्ती होगी। जिनका सेवा काल 4 साल का होगा। बेहतर सेवा देने वाले 25 फीसदी योग्य युवाओं को 4 साल के सेवाकाल के बाद रेगुलर कैडर में शामिल किया जाएगा।
इस योजना के जरिए सेना के तीनों अंगों जल, थल और वायु सेना में सेवा का मौका मिलेगा। भर्ती के लिए आयु सीमा साढे़ 17 साल से 21 वर्ष रखी गई है तथा श्ौक्षिक योग्यता 10वीं व 12वीं पास रखी गई है। शारीरिक और फिजिकल मापदंड सेना भर्ती के जैसे ही होंगे। चयनित युवाओं को 10 हफ्ते से 6 माह तक की ट्रेनिंग दी जाएगी।
सेवा काल की प्राप्तियों के बारे में जानकारी दी गई कि यह सेना में भर्ती जवानों की तरह ही होगी। पहले साल 4.76 लाख का पैकेज होगा जो चौथे साल में 6.92 लाख होगा। अग्नि सेना के अमर जवान की शहादत होती है तो उसे एकमुश्त एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे तथा विकलांगता की स्थिति में 44 लाख रूपये की सहायता दी जाएगी सभी स्थितियों में बाकी कार्यकाल का पूरा वेतन भी दिया जाएगा। सेवाकाल समाप्ति पर हर जवान को 11.7 लाख रुपए एक मुश्त मिलेंगे जो आयकर मुक्त होंगे।
राजनाथ सिंह ने कहा कि सेना में 4 साल की सर्विस देने वाले युवाओं के लिए दूसरे अन्य क्षेत्रों में सेवा के अवसर भी आसान हो जाएंगे। उल्लेखनीय है कि सरकार द्वारा 10 लाख नौकरियां देने की घोषणा की गई थी। बीते दो साल से सेना में भर्तियां नहीं हुई है। रेलवे में तीन लाख पद खाली पड़े हैं वही रेवेन्यू विभाग में 75 हजार तथा रक्षा सिविल में ढाई लाख पद खाली पड़े हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने अगले डेढ़ साल में दस लाख नौकरियां देने की घोषणा की है जिसकी शुरुआत आज अग्नीपथ योजना से की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here