कांग्रेस नेता व पूर्व मंत्री हरक के ठिकानों पर ईडी की छापेमारी

0
112
  • पूर्व मंत्री के आवास सहित एक दर्जन ठिकानों के खंगाले दस्तावेज

देहरादून। कांग्रेस नेता व पूर्व मंत्री हरक सिंह के आवास व अन्य ठिकानों पर ईडी की टीम द्वारा छापेमारी की गयी है। हरक के अलावा एक दर्जन अन्य लोगों के ठिकानों पर भी छापे की यह कार्रवाई चल रही है। आज तड़के हुई ईडी की छापेमारी की इस कार्यवाही की खबर मिलने के बाद सत्ता के गलियारों में हलचल मच गई। प्रवर्तन निदेशालय ने धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए), 2002 के प्रावधानों के तहत छापे की कार्रवाई की है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ईडी की टीम आज सुबह लगभग साढ़े पांच बजे हरक सिंह के डिफेंस कॉलोनी आवास पर पहुंची और वहंा उन्होने आवश्यक दस्तावेज खंगाले। इसके अलावा मेडिकल कालेज व अन्य संस्थानों के निदेशक व अधिकारियों से पूछताछ की जा रही है।
इसके अलावा पूर्व मंत्री से जुड़े कुछ अन्य ठिकानों पर भी ईडी ने दबिश दी है। समाचार लिखे जाने तक छापेमारी की यह कार्रवाई जारी थी। गौरतलब है कि बीते साल विजिलेंस की टीम ने भी छापेमारी की कार्रवाई की थी। कार्बेट टाइगर रिजर्व के पाखरो सफारी टाइगर घपले में पूर्व वन मंत्री हरक सिंह समेत कई अधिकारियों पर जांच एजेंसियों की निगाहें हैं। कुछ अधिकारियों पर भी कार्रवाई के संकेत मिल रहे हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव से ठीक पूर्व हरक सिंह भाजपा छोड़ वापस कांग्रेस में आ गए थे। 2016 में हरीश रावत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिराने में भी हरक सिंह रावत की विशेष भूमिका रही थी।

आईएफएस सुशांत के घर से कैश भी बरामद

देहरादून। पोखरो सफारी घोटाले में आज ईडी द्वारा 16 स्थानों पर की गई छापेमारी में सुशांत पटनायक के घर से कैश बरामद होने की खबर भी है जिसकी गिनती के लिए कैश काउंटिंग मशीन लेकर ईडी के अधिकारी दिल्ली नंबर की गाड़ी से दोपहर बाद उनके आवास पहुंचे। ईडी ने सुशांत और किशन चंद सहित आधा दर्जन से अधिक वन कर्मियों के ठिकानों पर भी छापे मारे हैं।

भाजपा के साथ रहो नहीं तो ईडी, सीबीआई के छापे को रहो तैयार: प्रीतम

देहरादून। पोखरो सफारी घोटाले मामले में आज ईडी की छापेमार कार्रवाई की खबर पाकर कांग्रेस नेता डॉ. हरक सिंह के आवास पर पहुंचे मगर उन्हें घर में नहीं घुसने दिया गया। प्रीतम सिंह ने कहा कि या तो भाजपा के साथ रहो नहीं तो फिर ईडी, सीबीआई के छापे के लिए तैयार रहो। उन्होंने कहा कि डा. हरक सिंह के साथ भी यही हो रहा है और पूरे देश भर में भी यही चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here