धरतीपुत्र पंचतत्व में विलीन

0
92


हजारों समर्थकों ने नम आंखों से दी अंतिम विदाई

सैफई/इटावा। समाजवादी पार्टी के संस्थापक और संरक्षक मुलायम सिंह यादव को आज उनके हजारों समर्थकों और परिजनों ने अक्षु पूर्ण अंतिम विदाई दी। उनके अंतिम दर्शनों और अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए उनके पैतृक गांव सैफई में आज हजारों लोगों की भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस प्रशासन को भी भारी मशक्कत करनी पड़ी।
उल्लेखनीय है कि बीते कल लंबी बीमारी के बाद उनका निधन वेदांता अस्पताल गुड़गांव में हो गया था और उनका पार्थिव शरीर यहां से सीधे उनके पैतृक आवास पर ले जाया गया था जहां कल से ही उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ था। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित अनेक नेता व अधिकारी उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करने पहुंचे थे। उनका आज पार्थिव शरीर उनके आवास से थोड़ी दूरी पर बने मेला मैदान में आम लोगों के दर्शनों के लिए रखा गया। इस दौरान आसपास के जनपदों से उनके हजारों समर्थक और जानने वाले लोगों के अलावा तमाम वीआईपी और वीवीआईपी भी उनके अंतिम दर्शनों के लिए सैफई पहुंचे। जिनमें राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत और उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री तथा आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू सहित अनेक कला और संस्कृति जगत की कई महान हस्तियां भी शामिल थी।
मेला मैदान से चंद कदमों की दूरी पर आज उनका अंतिम संस्कार किया गया। उनकी अंतिम यात्रा लगभग 2.30 बजे शुरू हुई। मुलायम सिंह यादव के तमाम परिजन अखिलेश यादव, शिवपाल यादव तथा रामगोपाल यादव व प्रतीक यादव तथा अन्य सभी लोग भी मौजूद थे। उनकी अंतिम यात्रा के दौरान उनके समर्थकों द्वारा मुलायम अमर रहे के नारे भी लगाए गए। उनके पुत्र व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता को मुखाग्नि दी, इस अवसर पर प्रतीक यादव भी उनके साथ थे। मुलायम सिंह यादव को याद कर कई लोग अपने आंसुओं को नहीं रोक पा रहे थे। मुलायम सिंह यादव का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here