दून पुलिस ने निभायी मित्र पुलिस की भूमिका,
307 के आरोपी से तहरीर ले लिखा मुकदमा

0
467

देहरादून। ये है हमारी मित्र पुलिस। 307 के आरोपी से थाने में तहरीर लेकर पीडित पक्ष सहित 21 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया और उसको थाने से जाने दिया क्या गजब राजपुर थाना पुलिस की कार्यवाही।
उल्लेखनीय है कि 22 फरवरी को जाखन स्थित अंसल वैली में दो पक्षों में जमीन कब्जाने को लेकर विवाद हुआ तथा प्रवीन भारद्वाज नामक व्यक्ति के खिलाफ रेखा राजपूत ने हत्या के प्रयास सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया था तथा उसके अगले दिन 23 फरवरी को स्थानीय लोगों ने जाखन में जाम लगाकर प्रवीन भारद्वाज की गिरफ्तारी को लेकर हंगामा किया था। स्थानीय पार्षद सहित सभी स्थानीय लोगों ने हंगामा करते हुए जानलेवा हमले की आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की थी। जिसपर राजपुर थाना प्रभारी ने लोगों से दो दिन का प्रवीन भारद्वाज की गिरफ्तारी के लिए समय मांगा था। लेकिन यह क्या पुलिस तो स्थानीय लोगों से दो कदम आगे निकल गयी। जबकि पुलिस अधिकारी दावे करते नहीं थकते हैं कि पीडित को वह तत्काल राहत पहुंचायेगे। लेकिन यहां पर उसका उल्टा हो गया। राजपुर थाना पुलिस ने हत्या के प्र्रयास के आरोपी से थाने में तहरीर लेकर स्थानीय पार्षद संजय नौटियाल, मुकदमा लिखवाने वाली महिला रेखा राजपूत सहित 21 लोगों के खिलाफ घर में घुसकर तोडफोड करने, धारदार हथियार व लाठी डण्डों से हमला कर पत्नी की चेन लूटना व पत्नी व बच्चों पर पेट्रोल डालकर आग लगाने सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। यह काम दून पुलिस ही कर सकती है। मुकदमा लिखने के बाद 307 के आरोपी को वहां से इज्जत से विदा कर दिया गया। पुलिस के इस कारनामें ने सभी को आश्चर्य में डाल दिया कि ऐसा भी होता है। अभी कोई गरीब व्यक्ति होता तो पुलिस उसको पकडकर जेल भेज देती और उससे उसका जुर्म भी नहीं पूछती लेकिन यहां इसका उल्टा हो गया। वाह रे राजपुर थाना पुलिस? इस मामले में जब डीआईजी/एसएसपी दलीप सिंह कुंवर से उनका पक्ष जानने के लिए फोन पर सम्पर्क किया तो उन्होंने फोन ओके करके काट दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here