चारधाम यात्री भगवान भरोसेः प्रीतम

0
80

मुफ्त सिलेंडर की घोषणा आचार संहिता का उल्लंघन
बीपीएल परिवारों का पत्ता साफ करने का आरोप

देहरादून। चार धाम यात्रा में फैली अव्यवस्थाओं और तीर्थयात्रियों की मौतों पर कांग्रेस ने भाजपा सरकार को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि सरकार ने चारधाम यात्रियों को भगवान भरोसे छोड़ दिया है।
पत्रकारों से वार्ता के दौरान पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व नेता विपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार ने सुगम और सुरक्षित चारधाम यात्रा का जो भरोसा दिलाया था अब उसका सच सामने आ गया है। अव्यवस्था के कारण हर रोज श्रद्धालुओं की जान जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पैदल मार्गों पर चिकित्सा की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जिससे लोगों को प्राथमिक उपचार तक नहीं मिल पा रहा है और लोग मर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन मौतों के लिए सरकार जिम्मेवार है।
उन्होंने पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मंत्री बताते हुए कहा कि ऐसे समय में जब राज्य में ऐतिहासिक चारधाम यात्रा चल रही है पर्यटन मंत्री विदेश दौरे पर हैं। उनका कहना है कि जब एक तरफ सत्ता में बैठे लोग चारधाम यात्रा में दूसरे समुदाय के लोगों के प्रवेश पर रोक लगाने की बात करते हैं वहीं दूसरी तरफ पर्यटन मंत्री दुबई सैर पर चले गए हैं। उन्होंने कहा कि क्या पर्यटन मंत्री दुबई से शेखों को चारधाम यात्रा में लाने के लिए गए हुए हैं। उन्होंने कहा कि वह तो पहले से कहते आए हैं कि महाराज उत्तराखंड के नहीं अंतरराष्ट्रीय पर्यटन मंत्री हैं जो पर्यटन बढ़ाने के लिए दुनिया भर में फार्मूले तलाशते रहते हैं।
प्रीतम सिंह ने सरकार के अंतोदय परिवारों को तीन रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त देने की घोषणा के फैसले के समय पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब राज्य में चुनाव प्रक्रिया गतिमान है सरकार की यह घोषणा चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन है। जिस पर चुनाव आयोग को संज्ञान लेना चाहिए उन्होंने कहा कि भाजपा ने गरीबों के साथ एक बार फिर धोखा किया है। भाजपा ने अपने दृष्टि पत्र में सभी गरीबों को तीन मुफ्त सिलेंडर देने का वायदा किया था लेकिन अब बड़ी चतुराई से सिर्फ अंतोदय परिवारों को ही तीन मुफ्त सिलेंडर देने का फैसला लिया है तथा बीपीएल परिवारों का पत्ता साफ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले के पीछे चंपावत चुनाव को प्रभावित करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here