मणिपुर हिंसा में अब तक 54 की मौत, कई घायल

0
271


नई दिल्ली। मणिपुर में पिछले दो दिनों से जारी तनाव थोड़ा शांत होता नजर आ रहा है। ताजा जानकारी के मुताबिक हिंसा में जान गंवाने वालों की संख्या 54 हो गई है जबकि कई लोग घायल हो गए हैं। इस बीच शनिवार को कई इलाकों में शांति नजर आई। दो दिनों तक हिंसा की आग में जले इंफाल में भी हालात सामान्य होते नजर आ रहे हैं। शनिवार को दुकानें और बाजार फिर से खुल गए और सड़कों पर गाड़ियों की आवाजाही भी फिर से शुरू हो गई है। कई इलाकों में अभी भी भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं। इस बीच केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजीजू का बयान सामने आया है। उन्होंने हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि सरकार इसलिए सभी जरूरी और संभव कदम उठा रही है।
इससे पहले शुक्रवार को चुराचंदपुरा से 4 और लोगों के मारे जाने की खबर सामने आई। जानकारी के मुताबिक इन चार लोगों की मौत उस वक्त हुई जब सुरक्षा बल इलाके से मेइती लोगों को रेसक्यू कर रहे थे। इसके अलावा इंफाल में एक टैक्स असिस्टेंट लेमिनथांग हाओकिप की भी हत्या कर दी गई है। इंडियन रेवेन्यू सर्विस वे इस बात की जानकारी दी है। बतां दे, मणिपुर में स्थिति को देखते हुए चप्पे-चप्पे पर सेना की तैनाती की गई है। सुरक्षाबल लगातार पेट्रोलिंग कर रहे हैं। 13 हजार से ज्यादा लोगों को संवेदनशील इलाकों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। उनके रहने खाने का इंतजाम भी किया गया है। वहीं दूसरी ओर कई लोग ऐसे थे जो बिगड़ते हालातों को देखते हुए रातों रात घर से भागने को मजबूर हो गए। कई लोग ऐसे हैं जो हिंसा भड़कने के बाद पिछले दो दिनों से घरों में बंद थे। इस हिंसा की चपेट में आए कुछ लोगें के मुताबिक थोड़ी देर तक उन्हें समझ ही नहीं कि उनके साथ क्या हो रहा है। बाद में अहसास हुआ कि उनके घरों पर भीड़ ने हमला किया है। इस दौरान पत्थरबाजी की गई और घरों को जलाने की कोशिश भी की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here