एक घंटे में चार लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाला युवक गिरफ्तार

0
42

देहरादून। एक घंटे में चार लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले नशेडी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर उसके कब्जे से लूट का सामान बरामद कर लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसको न्यायालय में पेश किया जहां से उसको न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गत दिवस थाना नेहरू कॉलोनी में श्रीमती आरती शर्मा निवासी फ्रेंड्स एनक्लेव डिफेंस कॉलोनी देहरादून ने तहरीर दी की शाम के समय वह अपने ऑफिस से घर की ओर जा रही थी, तभी राजीव नगर कट पर काले रंग की स्कूटी में सवार एक लड़के ने उनका बैग लूट लिया, जिसमें उनके आवश्यक दस्तावेज तथा 2000 नगद थे। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। इसी दौरान कन्ट्रोल रूम के माध्यम से डालनवाला क्षेत्र में तीन अलग—अलग स्थानो पर भी काली स्कूटी सवार व्यक्ति द्वारा लूट की घटनाओं को अंजाम दिये जाने की सूचना प्राप्त हुई। लगातार हुई घटनाओं की गंभीरता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह द्वारा सभी थाना प्रभारियों को स्कूटी सवार व्यक्ति की तलाश हेतु सघन चैकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिये गये थे, साथ ही नियमित रूप से पुलिस द्वारा की जा रही चैकिंग की क्लोज मॉनिटरिंग की जा रही थी। पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्यवाही तथा सघन चैकिंग के परिणामस्वरूप नेहरू कॉलोनी पुलिस द्वारा घटना में शामिल युवक को सूचना के एक घंटे के अन्दर बद्री कालोनी के पास खाली प्लॉट से गिरफ्तार किया गया, जिसकी तलाशी लेने पर उसके पास से नेहरूकालोनी में की गई लूट की घटना से सम्बन्धित वादिनी के दस्तावेज तथा नकदी बरामद हुई, इसके अतिरिक्त आरोपी के पास से डालनवाला क्षेत्र में की गई लूट की तीन अन्य वारदातों से सम्बन्धित माल भी बरामद हुआ। पूछताछ में उसने अपना नाम अर्चित नैथानी पुत्र ईश मोहन नैथानी निवासी जलवायु टावर के पास झाझरा प्रेमनगर बताया। उसके द्वारा बताया गया कि वह नशे का आदि है, तथा उसके द्वारा नशे में ही उक्त सारी घटनाओं को अंजाम दिया गया था। सर्कुलर रोड में उसके द्वारा एक राह चलती महिला का बैग छीन लिया था, जिसमें उसे कुछ कागजात तथा ज्यादा रुपये नहीं थे, पर अपने नशे की पूर्ति के लिये उसे और पैसो की आवश्यकता थी जिसके लिये उसके द्वारा अन्य लूट की घटनाओ को अजांम दिया गया, पर उनमें भी उसे कोई खास धनराशि प्राप्त नही हो पायी इसलिए अन्य घटनाओं को अंजाम दिया। पुलिस ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसको न्यायालय में पेश किया जहां से उसको न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here