धारचूला में नेपाल की ओर से फिर किया गया पथराव

0
88

जेसीबी के शीशे टूटे, चालक घायल
भारत के सब्र की परीक्षा न ले नेपाल

पिथौरागढ़/धारचूला। भारत के सीमांत क्षेत्र धारचूला में काली नदी पर बनाए जा रहे पुस्ते के विरोध में नेपाल की ओर से लगातार हो रही पत्थरबाजी के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। यह 11वीं बार है आज जब यहां निर्माण कार्य में जुटे मजदूरों पर नेपाल की ओर से पथराव किया गया। जिसमें एक जेसीबी के शीशे टूट गए और चालक को चोटें आने की खबर है।
यहां यह उल्लेखनीय है कि नेपाल के लोगों द्वारा बीते 1 सप्ताह से काली नदी में पुस्ते के निर्माण के विरोध को लेकर पत्थरबाजी की जा रही है। जिसे लेकर डीएम और एसडीएम स्तर के अधिकारी नेपाल के अधिकारियों से कई बार बातचीत कर चुके हैं लेकिन आश्वासनों के बाद भी लगातार पत्थरबाजी जारी है। कार्यदाई संस्था के कई मजदूर अब तक इस पत्थरबाजी में घायल हो चुके हैं। संस्था के इंजीनियर का कहना है कि नेपाल की ओर से जिस तरह पत्थरबाजी की जा रही है ऐसी स्थिति में यहां काम करना संभव नहीं है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन से संरक्षण की मांग करते हुए कहा कि अगर सुरक्षा सुनिश्चित नहीं होगी तो वह काम बंद कर देंगे।
उधर भारतीय अधिकारियों का कहना है कि नेपाल भारत के सब्र की परीक्षा न ले अन्यथा इसके परिणाम ठीक नहीं होंगे। कई वार्ताओं के बाद भी जब पत्थरबाजी न करने का भरोसा दिलाया जा चुका है फिर भी पत्थरबाजी हो रही है तो इसका सीधा अर्थ है कि यह पत्थरबाजी नेपाल के अधिकारियों की शह पर ही हो रही है। यह 11वीं बार है जब नेपाल की ओर से पत्थरबाजी की गई है। अधिकारियों ने नेपाल को चेतावनी दी है कि वह इस तरह की छोटी हरकतों को तुरंत बंद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here