क्षतिग्रस्त सड़कों के निर्माण के सम्बन्ध में महानगर कांग्रेस कमेटी ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा

0
148

देहरादून। देहरादून महानगर के नगर निगम क्षेत्र के समस्त वार्डों की क्षतिग्रस्त आंतरिक सड़कों के निर्माण के सम्बन्ध में महानगर कंाग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष डाॅ0 जसविन्दर सिंह गोगी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में कहा गया है कि देहरादून महानगर में स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यो के चलते देहरादून की लगभग सभी सड़कों पर बडे-बडे गड्डे हो चुके हैं तथा भारी बरसात के कारण शहरी क्षेत्र की सडकों पर जगह-जगह पानी जमा होने के कारण यातायात में लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कहीं सीवर लाईन के नाम पर तो कहीं घर-घर नल योजना के नाम पर सडकें बुरी तरह खुदी हुई हैं। सडकों की खुदाई के कारण उनका मलवा नालियों में भरा हुआ है जिसके कारण बरसात का पानी सडकों पर फैल रहा है। शहर की कई मुख्य सडकों पर बडे-बडे गड्डों के कारण आये दिन दुर्घटनायें घटित हो रही हैं। प्रिस चैक, आराघर चैक, दर्शन लाल चैक, नेहरू कॉलोनी, धर्मुपर, आराघर से प्रिंस चैक और प्रिंस चैक से निरंजपुर मंडी तक सड़के बडे-बडे गड्डों में परिवर्तित हो चुकी हैं। इसके अलावा श्रीदेव सुमन नगर, कृष्ण नगर, पण्डितवाड़ी, कांवली रोड के साथ ही खुडबुड़ा क्षेत्र में आंतरिक सडकें भी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं जिन पर यातायात करना जान जोखिम में डालने जैसा है।
देहरादून शहर के मुख्य मार्गों पर टाइल्स रोड के कारण जगह-जगह भारी जलभराव देखने को मिल रहा है। ऐसे में स्मार्ट सिटी के कामों पर भी सवालिया निशान लग रहे हैं। स्मार्ट सिटी में सडकों की मरम्मत के नाम पर केवल कुछ स्थानों में व्रिक ईट से मरम्मत कर सडकों को और भी बदसूरत बना दिया गया है। आगामी माह में त्यौहारों का सीजन शुरू होने वाला है जिसके चलते नवरात्र और दीवाली के दृष्टिगत शहरों मे आवागमन भी बढ जायेगा। इसी के मद्देनजर नवरात्र एवं दीवाली पर्व को देखते हुए शहर की सड़कों का शीघ्र निर्माण करवाया जाना नितांत आवश्यक है
देहरादून महानगर की कई आंतरिक सडकों पर स्ट्रीट लाइटें खराब पडी हुई हैं जिससे रात्रि के समय आवागमन में कठिनाई का सामना करना पड़ता है तथा दुर्घटना का भय बना रहता है।
उन्होंने जिलाधिकारी से आग्रह किया कि दीवाली पर्व से पूर्व देहरादून महानगर की सभी सड़कों का निर्माण शीघ्र सुनिश्चित करने के साथ ही ड्रेनेज सिस्टम को भी दुरूस्त करवाया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here