राजधानी दून में मानव तस्करी का खुलासा, दो दम्पत्ति गिरफ्तार

0
535

डेढ़ वर्ष पहले नाबालिग को ले गये थे आरोपी, बीस हजार में बेचा


देहरादून। राजधानी दून में मानव तस्करी का खुलासा करते हुए पुलिस ने डेढ़ वर्ष पूर्व गायब हुई नाबालिग को बरामद कर दो आरोपी दम्पत्ति को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों द्वारा नाबालिग को बीस हजार में बेचा गया था। इस मामले में खरीदार फरार है जिसकी तलाश जारी है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 13 अक्टूबर 2020 को एक व्यक्ति द्वारा कोतवाली विकासनगर में तहरीर देकर अपनी नाबालिग पुत्री की गुमशुदगी दर्ज करायी गयी थी। तत्कालीन विवेचक द्वारा गुमशुदा के संबंध में कोई जानकारी न होने पर जांच जारी रखते हुए मुकदमें में अंतिम रिपोर्ट प्रेषित कर दी गई थी।
गुमशुदा नाबालिग को पुलिस द्वारा 28 अप्रैल 2022 को बरामद कर लिया गया। जिसने बताया कि 2020 में मुझे सुनील पुत्र मान सिंह, लक्ष्मी पत्नी सुनील कुमार , सुकरमपाल उर्फ लील्लु , शशी पत्नी सुकरमपाल भीमावाला विकासनगर से बहला फुसलाकर जबरदस्ती उठाकर सहारनपुर ले गयेे जहा पर मुझे लगभग 1 वर्ष तक बन्धक बनाकर रखा गया तथा मुझे किसी से कोई बात न करने तथा घर से बाहर निकलने पर जान से मारने की धमकी दी। बताया कि बाद में सुनील, लक्ष्मी, शशी, लिल्लु, ने मुझे सन्दीप पुत्र ईलम चन्द निवासी हलालपुर थाना कोतवाली देहात जनपद सहारनपुर को 20 हजार रूपये में बेच दिया तथा सन्दीप से मेरी जबरदस्ती शादी करा दी। जिसके बाद संदीप में मेरे साथ दुष्कर्म भी किया। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस ने तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू किये। जिनमें से आरोपी दोनो दम्पत्ति को पुलिस ने एक सूचना के बाद भीमावाला चौराहे से गिरफ्तार कर लिया गया है। मुकदमें में पुलिस अब दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट की धारा बढ़ाते हुए संदीप की तलाश में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here