मनरेगा में काम करने गयी पांच महिलाएं मिट्टी में दबी, एक की मौत

0
219

उत्तरकाशी। मनरेगा में काम करने गयी पांच महिलाएं मिटृी निकालते वक्त मिटृी के टीले में दब गयी। जिन्हे ग्रामीणों ने बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया जहंा एक महिला की मौत हो गयी है।
घटना उत्तरकाशी जिले के मोरी तहसील स्थित जहां फिताड़ी गांव की है। जानकारी के अनुसार यहंा मनरेगा में काम करने वाली कुछ महिलाएं मिट्टी निकालने के काम में जुटी थी। इस दौरान पांच महिलाएं मिट्टी के टीले के नीचे दब गयी। घटना की सूचना मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुचे और पांचों महिलाओं को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। जिनके नामं सूरी पत्नी विद्ववान सिंह, कस्तूरी पत्नी ज्ञान सिंह, सुशीला पत्नी रणवीर सिंह, विपिना पत्नी रामलाल व राजेन्द्री पत्नी बहादुर सिंह बताये जा रहे है।
बताया जा रहा है कि इस दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल सूरी पत्नी विद्ववान सिंह की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी ले जाते समय मौत हो गयी, वहीं सूचना के बाद एसडीआरएफ व पुलिस प्रशासन की टीमें भी मौके के लिए रवाना हो गयी हैं।
आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल के अनुसार उत्तरकाशी की तहसील मोरी के अंतर्गत ग्राम फिताड़ी में पांच महिलाएं मिटृी खोदते समय दब गईं। मौके के लिए 108 एंबुलेंस, पुलिस और एसडीआरएफ टीम रवाना हुई। साथ ही राजस्व उपनिरीक्षक भी रवाना हो गए हैं। हालांकि इससे पहले ही ग्रामीणों ने पांचोंं महिलाओं को मिटृी के ढेर से बाहर निकाला। इस दौरान एक महिला की हालत बहुत गंभीर थी। जिसने अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here