गौरीकुंड हादसाः दो और शव बरामद

0
220

  • अब तक 7 शव बरामद, 18 अभी भी लापता

रेस्क्यू अभियान जारी, मौसम बना बाधा
ऋषिकेश में गंगा में डूबा एक पर्यटक

देहरादून। गौरीकुंड में हुए भूस्खलन हादसे को आज 9 दिन का समय हो चुका है लेकिन लापता लोगों की तलाश में जारी रेस्क्यू अभियान का अभी अंत होता नहीं दिख रहा है। लापता 25 लोगों में से 5 शव पहले बरामद कर लिए गए थे जबकि रेस्क्यू टीम ने आज दो और शवों को ढूंढने में सफलता हासिल कर ली है अब तक 7 शव मिल चुके हैं जबकि 18 लोग अभी भी लापता है जिनकी तलाश जारी है।
आज रेस्क्यू टीम को जो 2 शव मिले हैं उनमें एक महिला और बच्ची का शव है। जो दुर्घटना स्थल पर ही मलबे से निकाले गए। इस भूस्खलन में इतना अधिक मलवा व पत्थर पहाड़ से आए थे कि इस मलबे को अभी तक नहीं हटाया जा सका है मौसम खराब होने के कारण रेस्क्यू मे लगी टीमों को भी दिक्कतें हो हो रही है। माना जा रहा है कि अभी इस मलबे में कुछ और शव बरामद हो सकते हैं जबकि जो लोग मंदाकिनी के तेज बहाव में बह गए उनकी तलाश किया जाना अब मुश्किल काम है। हालांकि अभी रेस्क्यू अभियान जारी है।
उधर आज हरियाणा से आया एक पांच सदस्यीय पर्यटक दल का एक युवक ऋषिकेश राम झूला के पास गंगा के तेज बहाव में बह गया। स्थानीय पुलिस व जल पुलिस युवक की तलाश में जुटी है लेकिन युवक का कहीं भी अता पता नहीं चल सका है। प्रशासन द्वारा राज्य में भारी बारिश के अलर्ट की मद्देनजर भले ही लोगों को नदी नालों व पानी से दूर रहने की चेतावनी दी जा रही है लेकिन फिर भी लोगों के बहने और वाहनों के फंसने की खबरें थम नहीं रही है राज्य में अगले 48 घंटे भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है वहीं मानसूनी आपदा के कारण राजधानी दून से लेकर अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ तथा चमोली रूद्रप्रयाग से तबाही की तस्वीरें आ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here