पत्रकार जे डे की हत्या में पैरोल पर फरार हुआ गैंगस्टर गिरफ्तार

0
678

  • मुबंई के मशहूर पत्रकार की हत्या में काट रहा था उम्रकैद की सजा

देहरादून। अंडरवर्ड डान छोटा राजन के करीबी को एसटीएफ ने भारत नेपाल बार्डर से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी खोजी पत्रकार जेडे की हत्या में उम्रकैद की सजा काट रहा था जो पेरोल पर रिहा होकर नेपाल भाग गया था। जिस पर उत्तराखण्ड पुलिस की ओर से 25 हजार का ईनाम भी घोषित किया गया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि देर रात एसटीएफ को सूचना मिली थी कि आज सुबह भारत नेपाल बार्डर पर बनबसा के पास हल्द्वानी थाने का 25 हजार का ईनामी गैंगस्टर दीपक सिसौदिया आने वाला है। जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए एसटीएफ द्वारा बताये गये स्थान से गैंगस्टर दीपक सिसौदिया को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया कि गिरफ्तार अपराधी वर्ष 2011 में मुंबई में हुए पत्रकार जे.डे की हत्या के आरोप में उम्रकैद की सजा काट रहा था और पिछले वर्ष जनवरी माह में मुंबई की अमरावती सेन्ट्रल जेल से पैरोल पर छूटकर हल्द्वानी आया था जिसे मार्च में वापस जेल में जाना था लेकिन दीपक सिसौदिया पैरोल से बाहर आकर फरार हो गया जिस पर मुंबई पुलिस द्वारा उसके खिलाफ हल्द्वानी में मुकदमा दर्ज कराया गया था तथा एसएसपी नैनीताल द्वारा उस पर 25 हजार का ईनाम घोषित किया गया था।
बताया कि छोटा राजन गैंग से ताल्लुख रखने वाले इस इनामी अपराधी दीपक सिसोदिया की गिरफ्तारी के लिए उत्तराखण्ड पुलिस व एसटीएफ पिछले एक साल से प्रयासरत थी। लेकिन दीपक सिसोदिया के नेपाल में छिपे होने के कारण उसकी गिरफ्तारी सम्भव नही हो पा रही थी। एसटीएफ को ऐसी गोपनीय सूचनाएँ मिल रही थी कि दीपक चोरी—छिपे हल्द्वानी आता है जिस पर टीम काम कर रही थी कल देर रात्रि टीम को सूचना मिली कि दीपक सुबह—सुबह आने वाला है इस पर टीम को बनबसा क्षेत्र में लगाया गया था। इस दौरान दीपक कार फोर्ड फियेस्टा से नेपाल से बनबसा पहुँचा जिसे टीम ने बनबसा रेलवे स्टेशन के पास से धर दबोच लिया गया है।
एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल के अनुसार दीपक सिसोदिया को मुंबई की कोर्ट ने महाराष्ट्र के मशहूर खोजी पत्रकार जेडे की हत्या शामिल होने के आरोप में उम्रकैद की सजा सुनायी थी, तब से वह महाराष्ट्र की अमरावती सेन्ट्रल जेल में बन्द था। जनवरी 2022 को उसे 45 दिन की पैरोल पर रिहा किया गया था उसे पैरोल की अवधि मार्च में खत्म होने पर अमरावती जेल वापस जाना था लेकिन वह फरार हो गया। दीपक सिसोदिया हल्द्वानी का रहने वाला है और वह जून 2011 में मुंबई में हुए अंग्रेजी सांध्य दैनिक अखबार मिड डे के वरिष्ठ पत्रकार जेडे की हत्या में सम्मिलित होने का दोषी पाया गया था। इसने अण्डरवर्ड डॉन छोटा राजन गैंग के शूटरों साथ सम्मिलित होकर इस हत्याकांड को अंजाम दिलाया था, जिसमे यह अपराधी उम्रकैद की सजा काट रहा था। पिछले वर्ष में पैरोल में आने के बाद वापस न जाकर वह नेपाल भाग गया था। तब से एसटीएफ इसके बारे में जानकारी एकत्रित कर रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here