बाबा की डोली पहुंची धाम

0
725

कल सुबह 6.25 पर खुलेंगे मंदिर के कपाट
श्रद्धालुओं में देखा गया भारी उत्साह

उत्तरकाशी। दो मई को अपने शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर से रवाना होकर बाबा केदारनाथ की चल विग्रह डोली आज शाम धाम पहुंच गई। कल के शुभ मुहूर्त पर सुबह 6.25 पर केदारनाथ मंदिर के कपाट खोले जाएंगे, जिसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बड़ी संख्या में श्रद्धालु भी धाम पहुंच चुके हैं तथा बाबा के धाम की अवर्णीय पुष्प सज्जा की गई है।
बीते कल शाम बाबा केदार की चल विग्रह डोली अपने अंतिम पड़ाव गौरीकुंड पहुंच गई थी, जहां से आज सुबह भक्तों की भारी भीड़ के बीच सेना के बैंड की धुन और जयकारों की गूंज के साथ बाबा केदार की डोली केदारपुरी पहुंची। इस अवसर पर केदारपुरी पहुंचे श्रद्धालुओं में भारी उत्साह देखा गया। कल सुबह 6.25 बजे केदारधाम मंदिर के कपाट विधि विधान के साथ खोले जाएंगे, और आगामी 6 माह बाबा यही विराजमान रहकर अपने भक्तों को दर्शन देंगे।
बारह ज्योर्तिलिंग मैं से एक केदारधाम की इस अवसर पर भव्य सजावट की गई है। 10 कुन्तल फूलों से मंदिर को सजाया गया है। बीते कल यहां हुई हल्की बर्फबारी से धाम का नजारा और भी मनमोहक हो गया है आज सुबह गौरीकुंड से जब बाबा की चल विग्रह डोली रवाना हुई तो उसके आगे मराठा रेजीमेंट का बैंड धुनें बजा रहा था तथा डोली के पीछे बड़ी संख्या में चल रहे श्रद्धालु बाबा के जयकारे लगा रहे थे। इससे पूर्व बड़ासू—सरेसी, रामपुर—सीतापुर व सोनप्रयाग होती हुई बाबा की डोली कल गौरीकुंड पहुंची थी। जहां पंच केदार सांस्कृतिक मंच द्वारा भजन संध्या का आयोजन किया गया था।
उल्लेखनीय है कि बीते दो सालों में कोरोना के कारण चारधाम यात्रा बाधित रही थी। दो साल बाद शुरू हो रही यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है। 3 मई को गंगोत्री धाम व यमुनोत्री धाम के कपाट खुल चुके हैं कल केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलेंगे और 8 मई को बद्रीनाथ धाम के कपाट भी खुल जाएगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here