युवक—युवती की हत्याकांड का खुलासा, तांत्रिक गिरफ्तार

0
78

उदयपुर। युवक—युवती के वीभत्स हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है। मामला तंत्र—मंत्र से जुड़ा बताया जा रहा है। हत्या के लिए तांत्रिक ने चाकू का तो इस्तेमाल तो किया ही है, साथ ही फेवीक्विक का भी प्रयोग कर उन्हे मौत के घाट उतारा गया है।
जानकारी के अनुसार मृतक राहुल मीणा एक टीचर बताया जा रहा है। बीती 18 नवंबर को राहुल के पिता चतर सिंह ने पुलिस को सूचना देते हुए बताया था कि 15 नवंबर की शाम को राहुल बाइक से निकला था और वह घर वापस नहीं आया। 18 नवम्बर को बहू ने उसे फोन किया तो उसका मोबाइल गोगुन्दा थाने पर मिला। जिन्हे पुलिसकर्मियों ने एक शव मिलने की सूचना दी। परिजन गोगुन्दा हॉस्पिटल मोर्चरी पहुंचे, तो वहां राहुल का शव देखा। वहीं मृतक युवती के परिवार के सदस्य भी मौजूद थे। पुलिस ने परिजनो को बताया गया कि दोनों के शव जंगल में नग्न अवस्था में मिले है और उनके शरीर पर कई वार के निशान थे। मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी। अथक प्रयासों के बाद पुलिस तकनीकी साक्ष्यों की सहायता से दोहरे हत्याकांड के आरोपी इच्छापूर्ण शेष नाग बावजी मंदिर, भादवी गुडा के पुजारी भालेश कुमार तक पहुंच गयी और उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी तांत्रिक ने बताया कि वह लोगों के कष्ट दूर करने के लिए उन्हें ताबीज और मणको की मालाएं देता है. मृतका सोनू कुंवर के परिजन भी पारिवारिक समस्याओं के चलते उसके संपर्क में आए। उन्होंने बताया कि मृतका की वैवाहिक जिंदगी 4—5 साल से अस्त—व्यस्त चल रही थी। घरवाले उसके लिए ताबीज लेने आए थे. दूसरी ओर मृतक राहुल मीणा के परिजन भी तांत्रिक को पहले से जानते थे और हर रविवार मंदिर में दर्शन के लिए आते थे। बताया कि मृतका सोनू और मृतक राहुल की मुलाकात इसी मंदिर में हुई, जिसके बाद राहुल और उसकी पत्नी में झगड़े बढ़ गए। राहुल के परिवार वालों ने तांत्रिक से इस समस्या का उपाय निकालने के लिए कहा। इसके बाद आरोपी ने राहुल की हरकतों का पता लगाया और उसे यह सब छोड़ने के लिये कहा. साथ ही उसके घरवालों को भी दोनों के संबंध के बारे में बता दिया। बताया कि इस बात से दोनों नाराज हो गए और उसे बदनाम करने की कोशिश करने लगे. इतना ही नहीं, वह तांत्रिक को छोड़ने की बात भी करने लगे। नाम खराब होने के डर से उसने दोनों का मर्डर कर दिया। बताया कि 15 नवंबर को मृतक को लड़की से आखिरी बार मिलवाने का कहकर उसने मृतक राहुल को तैयार किया कि वह फिर यह काम कभी नहीं करेगा। इसके बाद बाइक पर बैठाकर जंगल की तरफ ले गया। घटनास्थल पर दोनों ने आखिरी बार संबंध बनाने की गुजारिश की, जिसपर आरोपी थोड़ा साइड हो गया। बताया गया कि जब वह संबंध बना रहे थे, तो उसने फेवीक्विक की बोतल उनपर डाल दी और फिर चाकू और पत्थरों से वार कर दोनों को मौत के घाट उतार दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here