कल खुलेंगे बद्रीनाथ धाम के कपाट

0
406

उद्धव व कुबेर की डोलिया धाम पहुंची
20 क्विंटल फूलों से सजाया गया धाम
बर्फ ने किया धाम का प्राकृतिक श्रृंगार
श्रद्धालुओं में दिख रहा है भारी उत्साह

चमोली। कल 27 अप्रैल को प्रातः 7ः10 पर भगवान बद्री विशाल धाम के कपाट विधिवत पूजा अर्चना के साथ श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए खोल दिए जाएंगे। नारायण के दर्शनों को लेकर धाम में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुट रही है तथा धाम को सजाया जा चुका है।
आज उद्धव और कुबेर की डोलिया बद्रीनाथ धाम पहुंच चुकी हैं वही आदि शंकराचार्य की गद्दी और रावल ईश्वरी प्रसाद लंम्बूदरी भी धाम पहुंच चुके हैं। भगवान बद्री विशाल की डोली ताज पांडुकेश्वर से जब धाम के लिए रवाना हुई तो बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती देखी गई। आज शाम तक नारायण की डोली धाम पहुंच जाएगी जहां पहले से ही मौजूद हजारों यात्री और श्रद्धालू उनकी राह देख रहे हैं। इससे पहले कल जोशीमठ में नरसिंह मंदिर में भव्य गरुड़ धार मेले का आयोजन किया गया जिसमें भगवान बद्री विशाल को गरुड़ पर बैठाकर धाम रवाना करने की परंपरा है।
बद्रीनाथ धाम में इस समय प्राकृतिक सौंदर्य और छटा देखते ही बनती है। जहां एक ओर अभी हाल में हुई बर्फबारी के कारण बर्फ ने धाम का प्राकृतिक श्रृंगार किया हुआ है वहीं बीते कल से ही श्रद्धालु व सेवादार धाम को सजाने में लगे हुए हैं। 20—25 कुंटल ताजा गेंदे व गुलाब के फूलों से भगवान का द्वार सजाया गया है। धाम में यात्रियों के रहने खाने और ठहरने की व्यवस्था की गई है। भगवान के स्वागत की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है और अब श्रद्धालुओं को भगवान बद्री विशाल की डोली पहुंचने का इंतजार है और इंतजार है उस पल का जब कल सुबह 7ः10 पर बद्रीनाथ धाम के कपाट विधिवत पूजा अर्चना के साथ खोले जाएंगे और श्रद्धालु उनके दर्शन कर सकेंगे। उल्लेखनीय है कि गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट 22 अप्रैल को खोले जा चुके हैं तथा केदार धाम के कपाट 25 अप्रैल को खुल चुके हैं कल 27 अप्रैल को बद्री विशाल धाम के कपाट खुलने के साथ ही सभी चारों धामों की यात्रा विधिवत शुरू हो जाएगी। चार धाम यात्रा के लिए अब तक 19 लाख से अधिक श्रद्धालु अपना रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here