विश्व पर्यटन दिवस पर विचार गोष्ठी आयोजित

0
112

टिहरी। धर्मानन्द राजकीय महाविद्यालय, नरेंद्रनगर के प्राचार्य प्रो0 (डॉ0) राजेश उभान ने महाविद्यालय के पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित विश्व पर्यटन दिवस -2022 के उपलक्ष्य में आयोजित विचार गोष्टी को सम्बोधित करते हुए अपने स्कॉटलैंड भ्रमण के अनुभवों को साझा करते हुए सफल पर्यटन पेशेवर बनने के लिए व्यावहारिक ज्ञान तथा व्यावसायिक कौशल के महत्व पर प्रकाश डाला।

पर्यटन विभाग के प्रभारी डॉ0 संजय महर ने इस वर्ष पर्यटन दिवस की थीम ‘पर्यटन पर पुनर्विचार’ पर प्रकाश डालते हुए मास टूरिज्म के विभिन्न प्रभावों को इंडोनेशिया, केन्या, नेपाल, धनोल्टी, कानाताल, पेरियार, फूलों की घाटी, अल्लेप्पी आदि पर्यटन स्थलों के उदाहरण देकर बताया l पर्यटन विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ0 विजय प्रकाश भट्ट ने कहा कि पर्यटन के आर्थिक लाभों व रोजगार सृजन क्षमता को देखते हुए ही विश्वभर में इसे उद्योग का दर्जा दिया गया है किंतु अनियोजित पर्यटन विकास हमारे पर्यावरण के साथ ही आर्थिकी, समाज व संस्कृति पर विभिन्न प्रकार के नकारात्मक प्रभाव डालता है।

इस अवसर पर डॉ0 सपना कश्यप, डॉ0 नूपुर गर्ग, डॉ0 विक्रम बर्तवाल, डॉ0 राजपाल रावत आदि ने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राध्यापक, कर्मचारी गण व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम के आयोजन में श्री विशाल त्यागी विभाग के टूर एंड ट्रेंनिग असिस्टेंट श्री शिशुपाल रावत, श्री अजय द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here