पोर्नोग्राफी का प्रभाव इतना ज्यादा बढ़ गया है कि कई पादरी और नन भी इसकी जद में हैं: पोप फ्रांसिस

0
98

नई दिल्ली। पोर्नोग्राफी के के प्रभाव की चपेट में कई पादरी और नन भी हैं, ये सनसनीखेज खुलासा ईसाई समुदाय के सबसे धर्मगुरु पोप फ्रांसिस ने किया है, उन्होंने इस सच्चाई को दुनिया के सामने स्वीकार किया है उन्होंने माना कि पोर्नोग्राफी का प्रभाव इतना ज्यादा बढ़ गया है कि कई पादरी और नन भी इसकी जद में हैं।बीबीसी की एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है, बीबीसी से डिजिटल और सोशल मीडिया के सर्वोत्तम इस्तेमाल के विषय पर वेटिकन सिटी में आयोजित एक कार्यक्रम में सवालों के जवाब देते हुए पोप फ्रांसिस ने ऐसा कहा।वेटिकन में एक सत्र के दौरान पोप फ्रांसिस ने पुजारियों और ननों को पोर्नोग्राफी देखने से जुड़े खतरों के बारे में चेतावनी देते हुए कहा, ‘यह न केवल पादरियों के दिल को कमजोर (weakens the priestly heart) करता है’ बल्कि ‘शैतानों को प्रवेश (devils to enter) करने की अनुमति देता है।’ पोप ने बताया कि सोशल मीडिया पर कैसे नेविगेट (navigate) किया जाए और डिजिटल दुनिया का कुशलतापूर्वक उपयोग करके और उस पर ज्यादा समय बर्बाद न करने के लिए।सोशल और डिजिटल मीडिया के क्षेत्र के बारे में पोप ने कहा, ‘अगर इन पर समय बिताना भी है तो कम से कम समय बिताएं जो दिनभर जीसस की शरण में होने की बात करते हैं वह यह पोर्न जानकारी नहीं ले सकते हैं।’ ‘शुद्ध हृदय, जिसे यीशु हर दिन प्राप्त करता है, यह अश्लील जानकारी प्राप्त नहीं कर सकता है,” उन्होंने कहा उन्होंने समूह को सलाह दी कि ‘इसे अपने फोन से हटा दें, ताकि आपके हाथ में प्रलोभन न आए।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here