पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले पारदी गैंग के पांच सदस्य गिरफ्तार

0
362

हरिद्वार। हरिद्वार में पुलिसकर्मियों पर हमला कर अपने साथियों को पुलिस अभिरक्षा से छुड़ाने वाले गैंग का खुलासा करते हुए पुलिस ने पांच बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी अंतर्राज्जीय पारदी गैंग के सदस्य है जिनकी गिरफ्तारी के बाद कई वारदातों का खुलासा किया गया है।
डीआईजी/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. योगेन्द्र सिंह रावत ने बताया गया कि बीती 25 मई को कोतवाली रानीपुर क्षेत्रान्तर्गत शिवालिक नगर गश्त के दौरान चेतक ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मियो कां. विजयपाल व कां. प्रीतपाल पर कुछ अज्ञात बदमाशो द्वारा उस वक्त जानलेवा हमला किया गया जब उन संदिग्ध बदमाशों को ड्यूटीरत पुलिस कर्मियों द्वारा अपराध करते वक्त संदिग्ध अवस्था में पकड़ा गया था। बताया कि हमलावर बदमाश पुलिसकर्मियों से अपने सहअपराधियों को भी छुड़ाकर ले गये एवं ड्यूटीरत पुलिस कर्मियों पर जानलेवा हमला कर गम्भीर चोट पहुँचाई गयी थी। हमलें में कां. प्रीतपाल को बांयी आँख में गम्भीर चोट आयी जिस आंख को उपचार के बाद भी नहीं बचाया जा सका।
पुलिस कर्मियों पर हमले के बाद बदमाशों को छुड़ा ले जाने के मामले को गम्भीरता से लेते हुए हरिद्वार पुलिस ने कई टीमें बनाकर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी गयी। बदमाशों की तलाश में जुटी पुलिस टीम को पता चला कि उक्त वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों द्वारा ही अप्रैल एंव मई माह में थाना कनखल क्षेत्र में कुछ जघन्य अपराधों को अंजाम दिया गया है। साथ ही जानकारी मिली कि वह गैंग खानाबदोश पारदी जाति का कुख्यात गैंग है जो पूरे भारत में गम्भीर घटना किये जाने के लिये कुख्यात माना जाता है। जिन पर हरिद्वार पुलिस द्वारा 25—25 हजार का ईनाम भी घोषित किया गया था।
बदमाशों की तलाश में जुटी पुलिस टीम को इस बात की जानकारी भी मिली कि गैंग से जुड़े सदस्य हरिद्वार में भी अक्सर मेलो में अपराध करने की नीयत से आते जाते रहते है जो कि घाटों, पार्किंग, सडक किनारे आदि स्थानो पर अस्थायी ठिकाने (तम्बू) बनाकर रहते है और अपराध करने के उपरान्त उक्त स्थान को छोड़ कर चले जाते हैं।
बीती रात पुलिस ने एक सूचना के आधार पर हरिद्वार में घटी इन सभी घटनाओ से सम्बन्धित उस गैंग के पांच सदस्यों को पन्तदीप पार्किग के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। जिनसे पूछताछ में हरिद्वार जनपद में हुई 6 घटनाओं का, जिसमें मुख्य रूप से कोतवाली रानीपुर से सम्बन्धित पुलिस टीम पर हमला एंव सरस्वती विघा मन्दिर में हुई चोरी, थाना कनखल क्षेत्र अधिवक्ता मनीष मेहता के घर हुई लाखो की चोरी व कनखल की दो अन्य चोरीयो के साथ— साथ थाना सिडकुल में एक चोरी के मामले का भी खुलासा हुआ। बताया कि गैंग के दो सदस्य पुलिस पकड़ से बाहर है जिनकी तलाश की जा रही है। गिरफ्तार बदमाशों के नाम राहुल पुत्र प्रकाश सिन्धी, सन्नी उर्फ समीर पुत्र बुकलिया, मुकेश मारवाड़ी पुत्र अमर सिंह उर्फ भूरा, गुज्जर उर्फ गुर्जन पुत्र स्व. बाबा सिंह व शंकर उर्फ वीरू पुत्र अमर सिंह उर्फ राजू उर्फ भूरा बताये जा रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here