पुलिसकर्मियों पर वाहन चढ़ाने का प्रयास करने वाला लीसा तस्कर गिरफ्तार

0
162

उधमसिंहनगर। चैंकिग केे दौरान बैरियर तोड़कर पुलिसकर्मियों पर वाहन चढ़ाने का प्रयास कर फरार हुए एक शातिर लीसा तस्कर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के दो अन्य साथी फरार है जिनकी तलाश जारी है।
जानकारी के अनुसार बीती 29 अगस्त की रात को जब थाना पुलभट्टा के पुलिसकर्मी थाने के बैरियर पर चैकिंग कर रहे थे तो इस दौरान एक इन्डीवर कार व बैगनआर कार को पुलिस ने रोकने का प्रयास किया। पुलिस को देख दोनो कार के चालक बैरियर तोड़कर व पुलिस कर्मियों पर वाहन चढ़ाने का प्रयास कर भाग निकले। जिसके बाद इन्डीवर कार द्वारा बहेडी बार्डर पर बने टोल प्लाजा मे रांग साईड से उनके बैरियरो को उडाते हुए बहेडी की ओर भाग निकली। जबकि इस दौरान थाना पुलभट्टा द्वारा वैगरनार कार कार को एक ढाबे के पास से बरामद कर लिया गया। जिसमें लीसा के 24 कनस्तर बरामद हुए। हालांकि इस दौरान कार सवार दो व्यक्ति भागने में कामयाब रहे। पुलिस ने मामले में जब वैगरनार कार के स्वामी का पता किया तो जानकारी हुई कि पकडी गयी कार रवि भटृ पुत्र हरीश चन्द्र भटृ निवासी भटृ बेकरी आर.के. टेन्ट हाउस रोड कुसुमखेडा मुखानी के नाम पंजीकृत है। जिस पर पुलिस द्वारा रवि भटृ के घर पर दबिश दी गयी तो वह घर पर नहीं मिला। हालांकि पुलिस को इस दौरान जानकारी मिली कि फरार चल रहा रवि भटृ मचखाली रानी खेत व उसके आस पास के स्थानो पर वन विभाग से चीड के जंगलो को लीसे के दोहन के लिए ठेके पर लेता है तथा वह ला का छात्र है। पुलिस को यह भी जानकारी मिली कि वह एक शातिर लीसा तस्कर है। जिसे पुलिस ने कल देर रात एक सूचना के बाद हल्द्वानी से गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ मे रवि भटृ ने बताया कि मै बैगनार कार का मालिक हूं तथा वह 29 अगस्त की रात अपने साथी जिसका नाम मनोज आर्या है तथा जिसकी कार इंडीवर है उसकी कार में 46 कनस्तर लीसी तथा अपनी वैगरनार कार में 24 कनस्तर लीसा रखकर ले जा रहे थे। इस दौरान मेरी कार में एक और साथी जिसका नाम रितिक मेहरा पुत्र राजेन्द्र मेहरा निवासी खुटानी थाना भीमताल मौजूद था। बताया कि जब हम थाना पुलभट्टा के पास पहुंचे तो पुलिस चैकिंग देखकर घबरा गये। जिस पर हमने टक्कर मारकर पुलिस बैरियर तोड़ दिये। आगे चलकर मैं घबरा गया और अपनी बैगनार कार को एक ढाबे के पास छोड़कर अपने साथी रितिक के साथ भाग निकला। बताया कि हमारा साथी मनोज आर्या अपनी इन्डीवर कार लेकर बहेडी की ओर टोल के बैरियर उडाता हुआ भाग गया था। बताया कि मनोज आर्या के कहने पर ही हम वह लीसा ले जा रहे थे। बहरहाल पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है जबकि फरार चल रहे दो अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here