हमलावर पार्षदों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन: सेमवाल

0
509

नौटियाल की डिग्री भी फर्जी है

देहरादून। उत्तराखण्ड क्रांति दल के मीडिया प्रभारी शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि अंसल ग्रीन वैली सोसायटी के सचिव के घर में घुसकर मारपीट करने वाले पार्षदों को अगर पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया तो वह आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।
आज यहां फोन पर सम्पर्क करने पर शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि जाखन स्थित अंसल ग्रीन वैली सोसायटी के सचिव के द्वारा आये दिन अतिक्रमण व अवैध कब्जों को लेकर शासन प्रशासन से शिकायत की जाती रही है। जिससे गुस्साये पार्षद संजय नौटियाल ने अपने अन्य पार्षद साथियों को साथ लेकर प्रवीन भारद्वाज व उसके परिवार पर हमला कर दिया। उन्होंने कहा कि पार्षद अपने साथियों के साथ मिलकर सोसायटी की जमीन पर कब्जा करना चाहता है जिसका प्रवीण भारद्वाज के द्वारा विरोध किया गया तो उनपर हमला कर दिया गया। उन्होंने कहा कि पार्षद भाजपा के वरिष्ठ नेता के संरक्षण में कीमती जमीन को कब्जाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने पार्षदों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है लेकिन अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। सेमवाल ने यह भी आरोप लगाया कि पार्षद संजय नौटियाल की डिग्री भी फर्जी है जिसपर तत्कालीन डीएवी कालेज के प्राचार्य डा. देवेन्द्र भसीन के द्वारा मुकदमा भी दर्ज कराया गया था। जिसके चलते यह पार्षद पद के लिए लायक नहीं है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति नगर निगम की भूमि पर ही रह रहा हो वह पार्षद कैसे बन सकता है। उन्होंने कहा कि यह पार्षद गैंग बनाकर कीमती जमीनों पर कब्जा करते है जिसकी प्रवीण भारद्वाज के द्वारा शिकायत की गयी थी। उन्होंने कहा कि यही नहीं इनके द्वारा नगर निगम के पार्क पर भी कब्जा किया गया है इसके साथ ही वहंी पर लगभग दस बीघा जमीन पर इनके द्वारा कब्जा किया गया है। सेमवाल ने बताया कि उनके द्वारा इसकी शिकायत अंसल ग्रीन वैली सोसायटी के अध्यक्ष बलवंत सिंह नेगी से भी की थी लेकिन तीन—चार माह पूर्व बलवंत सिंह नेगी की मृत्यु हो गयी थी जिसके बाद प्रवीण भारद्वाज अकेले ही इनसे लड रहा था। अब जब सचिव को ही इन लोगों के द्वारा पीट दिया है तो अन्य कोई इनके सामने कैसे अपनी आवाज उठायेगा। सेमवाल ने कहा कि वह इस लडाई में पूरी तरह से प्रवीण भारद्वाज के साथ हैं और अगर पुलिस कोई कार्यवाही नहीं करती है तो उव्रQांद आंदोलन के लिए बाध्य होगा जिसकी पूरी जिम्मेदार पुलिस प्रशासन की होगी।
वहीं आज पार्षद संजय नौटियाल के द्वारा प्रेस क्लब में एक प्रेसवार्ता आयोजित की गयी थी। प्रेसवार्ता में वह पत्रकारों के सवालों के जवाब देने में असर्मथ दिखायी दिये। पत्रकारों ने उनसे पूछा की वह इतनी भीड लेकर प्रवीण भारद्वाज के घर क्यों गये थे तो वह जवाब नहीं दे सके। इसके साथ ही पत्रकारों ने उनसे पूछा कि प्रवीण भारद्वाज के अगल—बगल के मकान भी उतने ही बाहर है जितने की प्रवीण का मकान बाहर था तो फिर एक मात्र उसके मकान की दीवार को ही क्यों तोडा गया। इसका जवाब भी संजय नौटियाल के पास नहीं था। ऐसे ही कई सवालों के जवाब वह नहीं दे सके तो पत्रकारों ने वहां से चले जाना ही सही माना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here