हरदा भी लड़ सकते हैं चुनाव

0
208

भाजपा की सूची एक—दो दिन में आएगी

नई दिल्ली/देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी 2022 के विधानसभा चुनाव में मैदान में उतर सकते हैं लेकिन इस बार वह 2017 की तरह 2 सीटों से चुनाव नहीं लड़ेंगे, पार्टी उन्हें एक ही सीट से चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हरीश रावत भी राज्य की किसी एक सीट से चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। भले ही अभी पार्टी ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि वह किस सीट से चुनाव लड़ेंगे लेकिन उन्हें भी चुनाव मैदान में उतारा जाएगा, इसके संकेत जरूर दिए गए हैं। अभी तक हरीश रावत अपने चुनाव लड़ने के बारे में या तो यह कहते रहे हैं कि इस बार वह चुनाव लड़ेंगे नहीं लड़वाएंगे या फिर यह कहते रहे हैं कि अगर पार्टी उन्हें चुनाव लड़ने के लिए कहेगी तो वह चुनाव जरूर लड़ेंगे।
बीते तीन दिनों से नई दिल्ली में डेरा जमाए उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के सभी नेता टिकटों को लेकर माथापच्ची कर रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार कांग्रेस लगभग सभी 70 सीटों पर अपने प्रत्याशी तय कर चुकी है सीआईसी की बैठक में 50 से अधिक नामों पर सोनिया गांधी की मोहर लगाई जा चुकी है। कुछ सीटों पर प्रत्याशियों के नामों को लेकर अभी पूर्ण सहमति नहीं बन सकी है। जिसके कारण मामला अटका हुआ है कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि इस बार कांग्रेस ने एक परिवार से एक प्रत्याशी के फार्मूले के अनुसार ही टिकट तय किए हैं। तथा उन्हें ही प्रत्याशी बनाया गया है जिनके जीतने की सबसे अधिक संभावनाएं हैं। अपने परिजनों और संतानों के लिए टिकट चाहने वालों को निराशा ही हाथ लगी है।
उधर आज भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में भी उत्तराखंड के प्रत्याशियों की सूची को अंतिम रूप दिया जा रहा है इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी और पुष्कर सिंह धामी के अलावा मदन कौशिक व संगठन महामंत्री अजय कुमार भी शामिल है। भाजपा ने अपने उन दर्जन भर विधायकों को इस बार टिकट नहीं दिया है जिनकी परफारमेंस अच्छी नहीं रही है। भाजपा की सूची जारी होने में अभी 1—2 दिन का समय लगने की बार कहीं जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here