ड्रग्स फैक्ट्री का भांडाफोड़ : 30 किलो एमडीएम ड्रग्स बरामद, 3 विदेशी नागरिक गिरफ्तार

0
442

नई दिल्ली। ग्रेटर नोएडा में अवैध ड्रग्स के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। दो सप्ताह में दूसरी बार यहां बड़ी ड्रग्स फैक्टरी का खुलासा हुआ है। पुलिस ने तीन विदेशी नागरिकों को भी गिरफ्तार किया है। साथ ही वहां से अवैध ड्रग्स मटेरियल सहित करोड़ों रुपए के ड्रग्स बरामद की है। पुलिस इनके अन्य आपराधिक इतिहास व गिरोह के सदस्यों की कुंडली खंगाल रही है। मंगलवार को पुलिस और स्वाट टीम की संयुक्त कार्रवाई में मिंत्रा एनक्लेव के मकान नंबर बी 7 में अवैध ड्रग्स फैक्ट्री का खुलासा हुआ। यहां से 30 किलो एमडीएम ड्रग्स बरामद हुआ। साथ ही ड्रग्स बनाने के उपकरण, रासायनिक पदार्थ, ड्रग्स की सप्लाई में प्रयोग की जाने वाली 2 कार बरामद हुई। गिरफ्तार आरोपी की पहचान सिमोन, केसीएना रेमी और ईगवे सोलोमनके रूप में की गई है। यह तीनों आरोपी बी 7 मित्र एनक्लेव थाना बीटा 2 ग्रेटर नोएडा में रह रहे थे। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि सभी गिरफ्तार आरोपी अफ्रीकी मूल के निवासी हैं, जो दिल्ली-एनसीआर में ड्रग्स सप्लाई का सिंडिकेट चलाते हैं। हाल ही में ग्रेटर नोएडा रीजन सेक्टर थीटा दो स्थित शर्मा मकान नंबर 279 से 16 मई को भी अवैध ड्रग्स फैक्ट्री का खुलासा हुआ था. इनका दूसरा सेटअप बी 7 मिंत्रा एनक्लेव थाना बीटा-2 में बनाया हुआ था। गिरफ्तार आरोपियों का यह गिरोह ड्रग्स मैन्युफैक्चरिंग करता था. इसके बाद यह सिंडिकेट कपड़ों के निर्यात की आड़ में कपड़ों के बंडल के अंदर छिपाकर ड्रग्स का निर्यात देश के विभिन्न राज्यों में करती है. इन आरोपियों को रो मटेरियल और केमिकल सप्लायर्स और इनके नेटवर्क के वह मेंबर, जो इस ड्रग्स को कंज्यूमर्स तक पहुंचाते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here