दंगाइयों पर होगी सख्त कार्यवाहीः धामी

0
334

प्रशासन अलर्ट, हरिद्वार में पुलिस का मार्च
ड्रोन से की जा रही है निगरानी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हनुमान जयंती के अवसर पर अराजक तत्वों द्वारा की गई हिंसा व पथराव की घटनाओं की निंदा करते हुए कहा है कि कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी इसके आदेश अधिकारियों को दे दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि बात चाहे दिल्ली के जहांगीरपुरी की हो या फिर हरिद्वार के गांव डांडा जलालपुर की हो, यह अत्यंत ही निंदनीय है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के साथ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी कानून व्यवस्था को हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि दंगाइयों से सख्ती से निपटें। इस बीच स्थिति की गंभीरता को देखते हुए आज हरिद्वार के जलालपुर क्षेत्र में एसपी सिटी के नेतृत्व में पुलिस बल द्वारा मार्च निकाला गया। पुलिस सभी मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में ड्रोन के जरिए निगरानी कर रही है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है तथा आरोपियों की धरपकड़ जारी है। किसी को भी सामाजिक माहौल खराब नहीं करने दिया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि हनुमान जयंती के अवसर पर देर रात आठ बजे भगवानपुर के गांव डांडा जलालपुर में हिंदू संगठनों द्वारा शोभायात्रा निकाली जा रही थी जिस पर अचानक कुछ शरारती तत्वों द्वारा हमला कर दिया गया तथा बवाल के दौरान कुछ वाहनों को भी आग लगा दी गई थी। इस मामले में 12 लोगों को नामजद करते हुए 40 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस अब तक 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है जबकि कई आरोपी पुलिस कार्रवाई के डर से अपना घर छोड़कर भाग गए हैं। दिल्ली और उत्तराखंड की इन घटनाओं के मद्देनजर पुलिस प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वह किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। यहां पर यह भी उल्लेखनीय है कि राजधानी दून में भी शोभायात्रा के दौरान तहसील चौक पर दोनों समुदायों के लोगों में टकराव की स्थिति पैदा हो गई थी लेकिन इसे पुलिस के हस्तक्षेप के कारण संभाल लिया गया था।

क्राइम ब्रांच की टीम पर आज फिर हुआ पथराव
नई दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई पथराव की घटना के बाद आज फिर यहां जांच करने गई दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम पर मकान की छत से पत्थर फेंका गया इसमें एक अधिकारी के घायल होने की खबर है इस मामले में भारी पुलिस बलों की तैनाती के बीच भी पत्थर फेंके जाने की घटना को पुलिस प्रशासन ने गंभीरता से लिया है। स्थानीय लोगों द्वारा इस मामले में की गई गिरफ्तारी का विरोध किया जा रहा है। तनाव को देखते हुए अब क्षेत्र में और अधिक पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here