इंतजार खत्मः चार धाम यात्रा शुरू

0
107

सीएम धामी ने दिखाई पहले जत्थे को हरी झंडी

सभी को कराएंगे दर्शन, बिना दर्शन कोई नहीं जाएगा
हरिद्वार से भी सैकड़ों बसें यात्रा पर निकली

ऋषिकेश/हरिद्वार। विश्व प्रसिद्ध चार धाम यात्रा का आगाज हो चुका है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज ऋषिकेश से गंगोत्री जाने वाले पहले यात्री जत्थे की बसों को हरी झंडी दिखाकर यात्रा पर रवाना करते हुए यात्रियों को शुभकामनाएं दी। लंबे इंतजार के बाद शुरू हुई चार धाम यात्रा को लेकर जहां श्रद्धालुओं में भारी उत्साह देखा गया वहीं स्थानीय लोग व राज्य वासियों में भारी खुशी है।
कल 22 अप्रैल को गंगोत्री और यमुनोत्री धामों के कपाट खुलने हैं। एक दिन पहले आज ऋषिकेश और हरिद्वार से यात्रियों का पहला जत्था चार धाम यात्रा के लिए रवाना हो चुका है। जो कल 22 अप्रैल को मां गंगोत्री और मां यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने का साक्षी बनेगा। यात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि किसी भी यात्री को किसी भी तरह की परेशानी न हो इसके हर संभव प्रयास सरकार द्वारा किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जो भी श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आएंगे सभी को देव दर्शन कराए जाएंगे, कोई भी यात्री बिना दर्शन किए वापस लौट कर नहीं जाएगा। यात्रियों की संख्या अधिक होने के कारण दर्शन में कुछ विलंब हो सकता है लेकिन दर्शन सभी को होंगे।


उन्होंने कहा कि यात्रियों को भी व्यवस्थाए बनाए रखने में सहयोग करने की जरूरत है। यात्री अपना रजिस्ट्रेशन और हेल्थ चेकअप जरूर कराएं साथ ही गर्म कपड़ों की पर्याप्त व्यवस्था के साथ ही यात्रा पर जाएं किसी तरह की दिक्कत होने पर हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क करें। मुख्यमंत्री ने आज ऋषिकेश से दर्जनों बसों को हरी झंडी दिखाई वहीं हरिद्वार के माया मंदिर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु गंगा स्नान के बाद चार धाम यात्रा के लिए रवाना हुए। उल्लेखनीय है कि अब तक चार धाम यात्रा के लिए 16 लाख से अधिक श्रद्धालुओं द्वारा रजिस्ट्रेशन कराया जा चुका है। सरकार द्वारा इस बार सभी श्रद्धालुओं के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य किया गया है। देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए ऑनलाइन व ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था की गई है। उल्लेखनीय है कि 22 अप्रैल को गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलेंगे वहीं बाबा केदार धाम के कपाट 25 अप्रैल को तथा बद्रीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल को खोले जाएंगे। सीएम धामी ने कहा है कि भगवान केदार व बद्री भगवान की कृपा हम सभी पर बनी रहे सभी की यात्रा व मनोकामना सफल व पूरी हो।


श्रद्धालुओं ने की उत्तराखण्ड सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी


हरिद्वार/ऋषिकेश। देश के कोने कोने से आने वाले यात्री हरिद्वार और ऋषिकेश पहुंच रहे हैं। हरिद्वार पर्यटन भवन में बने रजिस्ट्रेशन सेंटर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली। 11 बजे रजिस्ट्रेशन विंडो खुलने व डेढ़ बजे बंद हो जाने पर यात्रियों में भारी रोष देखा गया और उन्होने उत्तराखण्ड सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रजिस्ट्रेशन के लिए लंबी—लंबी लाइनों में खड़े लोग घंटों परेशान रहे उनका कहना था कि रजिस्ट्रेशन काउंटर सुबह 8 बजे से खोले जाने चाहिए थे लेकिन वह 11 बजे खोले गए और डेढ़ बजे बंद कर दिये गये। उन्होने इसे उत्तराखण्ड सरकार की लापरवाही बताया। ठीक इसी तरह का नजारा ऋषिकेश में भी देखा गया जहां रजिस्ट्रेशन के लिए यात्रियों में मारामारी देखी गई कई लोग शासन प्रशासन की व्यवस्थाओं को कोसते नजर आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here