पटवारी परीक्षा प्रकरण में एसआईटी
का बड़ा खुलासा, दो और गिरफ्तार

0
45

देहरादून। पटवारी परीक्षा प्रकरण में एसआईटी ने चाचा भतीजा को रिमाण्ड पर लेकर उनकी बयान के आधार पर दो अन्यों को भी गिरफ्तार कर महत्वपूर्ण दस्तावेज व प्रिंटर बरामद किया। इसके साथ ही एक अन्य स्थान को भी चिन्हित किया जहां पर पेपर पढाया गया था।
आज यहां इसकी जानकारी देते हुए एसएसपी हरिद्वार व एसआईटी प्रभारी अजय सिंह ने बताया कि पटवारी परीक्षा प्रकरण में थाना कनखल पर दर्ज मुकदमें की तफ्तीश मिलने के बाद लगातार जांच में जुटी एस.आई.टी. टीम द्वारा अब तक गिरफ्तार किए जा चुके 08 आरोपियोेंं (संजीव दूबे, रितू, मनीश कुमार, प्रमोद कुमार, राजपाल, संजीव कुमार, रामकुमार, सोनू उर्फ खड़कू) में से मुख्य आरोपी चाचा—भतीजे संजीव दूबे और राजपाल का 19 जनवरी 2023 से 04 दिवस पुलिस कस्टडी रिमाण्ड हासिल किया। कस्टडी रिमाण्ड के दौरान मिली अहम जानकारी के आधार पर एसआईटी ने प्रकरण से सम्बन्धित कई संदिग्ध दस्तावेज व अन्य सामग्री बरामद की गई। उन्होंने बताया कि राजपाल, संजीव दुबे व अन्य के साथ मिलकर अभियर्थियों को पेपर पढ़वाने समेत अन्य कई प्रकार के सहयोग करने के एवज में लाभ प्राप्त करने के संबंध में संलिप्तता प्रकाश में आने पर दीपक कुमार पुत्र सुशील कुमार निवासी ग्राम प्रहलादपुर खानपुर हरिद्वार व सौरभ प्रजापति पुत्र स्व हरद्वारी लाल निवासी पीठ बाजार सीएमआई हॉस्पिटल के सामने, ज्वालापुर हरिद्वार को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों द्वारा प्रिन्टर क्रय कर पेपर की फोटोस्टेट निकालकर बिहारीगढ स्थित रिजार्ट में अभ्यर्थियों की निगरानी की गई व सॉल्व किए गये पेपरों को नष्ट किए जाने की पुष्टि की गई। दोनो आरोपियों के कब्जे से अभ्यर्थियों से लिए गए धन का लेखा जोखा सम्बन्धित दस्तावेज बरामद करते हुए पुलिस टीम ने प्रिंटर तथा अन्य दस्तावेज बरामद किये। आरोपियों की निशांदेही पर प्रश्न लीक प्रकरण के द्वारिका दिल्ली स्थित तीसरे घटनास्थल को भी चिन्हित किया गया। उक्त स्थल पर आरोपियोंं द्वारा अपने रिश्तेदारो को ले जाकर पेपर पढ़वाया गया था। टीम द्वारा उक्त पेपर लीक हेतु प्रयुक्त राजपाल का रिश्तेदार की बोलेरो तथा पेपर के फोटो लेने वाले मोबाइल सम्बन्धित साक्ष्य भी बरामद किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here