मैट्रिमोनियल साइट से लड़कियों को फँसाकर रेप करने वाला अरेस्ट

0
281

जयपुर। राजस्थान की सांगानेर पुलिस ने 27 वर्षीय सैयद शाह खावर अली को अरेस्ट किया है। आरोपी सैयद शाह मैट्रिमोनियल साइट के माध्यम से लड़कियों को अपने जाल में फँसाता था और उनका यौन शोषण करता, फिर उन्हें लूटकर फरार हो जाता था। रिपोर्ट के अनुसार, अलग-अलग राज्यों की 50 से ज्यादा लड़कियों को उसने इसी तरह अपना शिकार बनाया है। वह लड़कियों के सामने कभी खुद को सुप्रीम कोर्ट का वकील, तो कभी सिंगापुर का बिजनेसमैन बताता था। मूल रूप से सैयद शाह खावर अली हरियाणा के अंबाला का निवासी है।जानकारी के अनुसार, सैयद शाह के खिलाफ शनिवार (6 मई) को जयपुर के सांगानेर थाना क्षेत्र के शांति विहार की एक युवती ने शिकायत दर्ज कराई थी। रिपोर्ट्स के अनुसार, शिकायत में पीड़िता ने बताया कि उसने शादी के लिए मैट्रिमोनियल साइट पर अपना डाटा डाला था। इसी साइट के माध्यम से सैयद शाह अली उसके संपर्क में आया। उसने खुद को सिंगापुर का कारोबारी बताया। यह भी कहा कि वह सर्वोच्च न्यायालय में वकालत भी करता है। कुछ दिनों की बातचीत होने के बाद वह 27 अप्रैल 2023 को पीड़िता से मिलने जयपुर पहुंचा। रिपोर्ट के अनुसार, 6 मई तक सैयद अली बहाने बनाकर जयपुर में ही ठहरा रहा। शनिवार को वह लड़की से मिलने उसके फ़्लैट पर गया। उसने सोने का कड़ा बनवाने का झाँसा देकर गहने रखने की पीड़िता की जगह देख ली। फिर उसी दिन लड़की को बहाने से फ़्लैट से बाहर भेजकर उसके गहने चुरा लिए। गहनों के अलावा उसने पीड़िता की आलमारी से कुछ नकद और महँगी घड़ी भी चुरा ली। इसके बाद अर्जेन्ट काम बताकर वहाँ से फरार हो गया। ठगी की आशंका होने पर लड़की ने पहले सैयद अली को कॉल किया। पहले तो उसने चोरी से इंकार किया, फिर कुछ देर बाद अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस में शिकायत दी। पुलिस ने लोकेशन ट्रेस कर सैयद शाह अली को अरेस्ट कर लिया। पलिस पूछताछ में उसने 50 से अधिक लड़कियों को अपना शिकार बनाने की बात स्वीकार की है। वह लड़कियों को मीठी-मीठी बातों से फंसाता था और बाद में उनका शारीरिक शोषण करता था। लड़की का भरोसा जीतने के बाद उनके कीमती सामान चुरा कर भाग निकलता था। पुलिस छानबीन में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि सैयद अली का एक पुराना घर दिल्ली के लाजपत नगर में भी है। वह इसी एड्रेस से सिम जारी करवाता है। उसके द्वारा शारीरिक शोषण और ठगी की शिकार लड़कियाँ दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, केरल और उत्तराखंड की रहने वाली हैं। वह इसी तरह के एक मामले में पहले भी दिल्ली पुलिस द्वारा अरेस्ट किया जा चुका है, लेकिन फिर छूटकर अपने गोरखधंधे में लग गया था। पुलिस अन्य राज्यों से भी उसके खिलाफ सबूत एकत्रित कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here