बीड़ी का बंडल बना नंदा देवी की हत्या का कारण

0
281

नैनीताल। हल्द्वानी के मंडी क्षेत्र में हुई वृद्ध महिला की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके कब्जे से पुलिस ने मृतका का मोबाइल, हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा व अन्य सामान भी बरामद किया गया है। हत्या का कारण बीड़ी के बडंल को लेकर हुआ विवाद बताया जा रहा है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट द्वारा बताया गया कि बीती 5 मई को रोहित मेहरा पुत्र गोपाल सिंह मेहरा निवासी अमिया अमृतपुर भीमताल व लक्ष्मण सिंह बर्गली पुत्र जगत सिंह बर्गली निवासी इंद्रपुरी चोरगलिया ने कोतवाली हल्द्वानी में तहरीर देकर बताया गया कि 5 मई को रोहित मेहरा ने अपनी सास के घर फोन किया तो वह बंद जा रहा था इस पर वह अपनी सास के घर पर गया तो देखा कि सास के घर के आगे उनकी दुकान है जो सास चलाती हैं वह भी बंद थी। अन्दर जाकर देखने पर पता चला कि घर में खून बिखरा हुआ है और बाथरूम में उनकी सास का रक्त रंजित शव पड़ा हुआ है। जिसके बाद उन्होने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर हत्यारोपी की तलाश शुरू कर दी गयी। हत्यारे की तलाश में जुटी पुलिस को कई दिनों की कड़ी मशक्कत के बाद यह सूचना मिली कि एक व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति के पास एक मोबाइल यह कहकर गिरवी रखकर गया था कि वह इसे वापस ले जायेगा। लेकिन कई दिन बीतने के बाद भी वह वापस नहीं आया है। सूचना पर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने गिरवी रखने वाले व्यक्ति से फोन लेकर जांच करी तो पता चला कि वह फोन मृतका नंदा देवी का ही है। जिसे हत्या के दौरान लूटा गया था। इस पर पुलिस ने मोबाइल गिरवी रखने वाले के बारे में पता किया तो पुलिस को जानकारी मिली कि उक्त व्यक्ति का नाम मनोज पुरी निवासी नवाबगंज बरेली है। जो मृतका के पड़ोस के ही एक मकान में किराये में रहता है तथा गौला में रेता/बजरी भरने का कार्य करता है। जिसे पुलिस ने आज सुबह गिरफ्तार कर लिया है।

हत्यारोपी मनोज पुरी ने बताया कि मैं 4 मई को नन्दा आन्टी की दुकान में बीडी का बण्डल लेने गया था मेरे पास खुले पैसे नहीं थे। मैने उनसे बीड़ी का बण्डल उधार मांगा तो आन्टी मुझसे नाराज होकर गालियां देने लगी। जिस पर मैं नाराज होकर चला गया और उससे बदला लेने की फिराक में लग गया। मैने तय किया कि इस औरत को जान से मार दूँगा साथ ही पैसे भी लूट लूंगा। दिन के समय आवाजाही होने के कारण मैं उसे नहीं मार सका इसलिए मैं रात को हथौड़ा लेकर उनके घर में घुसा और सुबह जैसे की उन्होने दरवाजा खोला तो उसने उन पर हमला बोल दिया। जिससे उनकी मौत हो गयी और मैं उन्हे घसीट कर टॉयलेट में ले गया। इसके बाद उसने उनके घर से बैग में कुछ कपड़े, नगदी एंव मोबाइल लेकर फरार हो गया। बताया कि शनिवार को गौला गेट में जुआं खेलते हुए पैसे हारने के बाद मैने वहीं एक व्यक्ति के पास उक्त मोबाइल गिरवी रख दिया। जिसके बाद मैं बरेली चला गया था। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा व अन्य सामान बरामद कर लिया है। बहरहाल पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here