मनाली घूमने आए 7 पर्यटक सैलाब में बहे, 4 की मौत

0
268


कुल्लू । हिमाचल के कुल्लू में बादल फटने के बाद आए सैलाब में मनाली घूमने गए अजमेर के 7 युवक बह गए। इनमें से 4 की मौत हो गई वहीं 3 की तलाश जारी है। कुल्लू प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को इसकी सूचना दे दी है। परिजन शव लेने कुल्लू के लिए रवाना हो गए। बता दें कि 7 जुलाई को ब्यावर के चैत्य सांखला, साहिल तेजी, लालचंद डुलगच, नितेश पंडित, संदीप सांगला, नरेंद्र सिंह और अक्षय कुमावत मनाली के लिए निकले थे। इसमें से साहिल, लालचंद, नरेंद्र और चैत्य की मौत की पुष्टि प्रशासन ने कर दी है। बाकी सभी की तलाश जारी है। परिजनों के मुताबिक आखिरी बार 8 जुलाई को बातचीत हुई थी उस दौरान वे मनाली से कुछ ही दूरी पर चाय पीने के लिए रूके थे। उसके कुछ देर बाद ही वहां बादल फटा और अचानक सैलाब आया जो सभी को बहा कर ले गया। कुल्लू प्रशासन की ओर से युवकों के शव पहले चंडीगढ़ लाए जाएंगे। इसके बाद वहां से एंम्बुलेंस के जरिए ब्यावर तक पहुंचाएं जाएंगे। वहीं ब्यावर विधायक शंकरसिंह रावत ने सीएम को पत्र लिखकर युवकों के शव विशेष विमान से लाने व मृतकों के आश्रितों को 20-20 लाख रुपए की सहायता राशि दिलाने की मांग की।
कुल्लू प्रशासन की ओर से परिजन को जो तस्वीरें उपलब्ध कराई गई उनमें से उन्होंने चारों युवकों की चुनाव शिनाख्त की। परिजन ने जब कुल्लू प्रशासन को उनके शरीर पर बने टैटू की जानकारी दी तो उन्होंने परिजन को युवकों के शरीर पर बने टैटू की फोटो भी भेजें। इसी आधार पर इन युवकों में साहिल तेजी, लालचंद डुलगच, नरेंद्र सिंह की शिनाख्त परिजन की ओर से करने की जानकारी मिली। इनमें साहिल तेजी के हाथ पर संग्राम, लालचंद के हाथ पर मानवीर और पंजा तो नरेंद्र सिंह के हाथ पर भी टैटू बना था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here